आबकारी विभाग में ऑल इज नॉट वेल

0
49
फोटो उत्तराखंड आबकारी मुख्यालय

कुलदीप रावत

इन दिनों उत्तराखंड आबकारी विभाग में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है खासकर राजधानी देहरादून में राजधानी देहरादून में एक अधिकारी को बचाने के लिए सचिवालय के कई बड़े अधिकारियों ने एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है चर्चा है कि इस अधिकारी के द्वारा बड़े आकाओं को मोटा माल पहुंचाया गया है जिसमें महंगे महंगे गिफ्ट और उनके घरेलू खर्चे भी शामिल है जिसके बाद इस बड़े अधिकारी के द्वारा आबकारी के बड़े अधिकारियों पर दबाव बनाया जा रहा है इस दबाव के चलते विभाग के 2 आईएएस अधिकारियों के बीच कहासुनी तक हो गई है सूत्रों के हवाले से चर्चा है कि विश्वकर्मा भवन में बैठे बड़े अधिकारी साहब एक आबकारी के अधिकारी को बचाने के चक्कर में उन्हें आबकारी विभाग से हटाने तक की धमकी अपने एक  गुर्गे  से दिलवा चुके हैं अपनी धमकी को हकीकत में  बदलने के लिए  इन दिनों मुख्यमंत्री पर खासा दबाव बना रहे हैं और अपने चहेते अधिकारी को आबकारी के शीर्ष पद पर बैठाने के गुणा भाग में जुट गए हैं

 

इसी उठा पटक में आज आबकारी विभाग के बड़े अधिकारियों के द्वारा ट्रांसपोर्ट नगर में अवैध शराब का एक जखीरा बरामद किया गया है इस तरह बड़े सीनियर अधिकारियों के द्वारा छापेमारी के बाद आबकारी विभाग के दूसरे धड़े में हड़कंप मच गया है सूत्रों के हवाले से चर्चा तो यहां तक भी है जैसे ही आज आबकारी विभाग के बड़े अधिकारी ट्रांसपोर्ट नगर में छापा मारने पहुंचे तभी एक दूसरी टीम भी छापा मारने पहुंच गई हालांकि यह खबर सूत्रों के हवाले से हैं जिसकी अभी तक पुष्टि नहीं हुई है और इस मामले में कोई भी आबकारी कार्यकारी बोलने को तैयार नहीं लेकिन दबी जुबान में सभी इस छापेमारी की तारीफ कर रहे हैं

देखिए वीडियो आबकारी अधिकारियों की छापेमारी का

 

बड़ा सवाल यह है क्या जिला आबकारी अधिकारी और सर्कल इंस्पेक्टर की संज्ञान के बिना इस तरह का कार्य हो रहा था या फिर इनकी जानकारी के बावजूद भी शराब कंपनी सरकार को चूना लगाने का काम कर रही बहरहाल सच्चाई जो भी हो लेकिन आने वाले दिनों में और भी कुछ बड़े खुलासे होने वाले हैं सूत्रों की माने तो आबकारी विभाग के कुछ अधिकारियों की मिलीभगत से चल रहे एक बड़े सिंडिकेट का भंडाफोड़ होने वाला है यह सिंडिकेट इतना बड़ा है जिसका जाल पूरे उत्तराखंड और पड़ोस के राज्य तक में फैला हुआ है  भंडाफोड़ होते ही जाहिर है कई विभागीय अधिकारी कर्मचारी इस आग की लपटों से झुलसने वाले हैं

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here