जज़्बे को सलाम, लॉक डाउन में ड्यूटी ही समझा फर्ज शादी की केंसिल!

0
121

लोकजन टुडे,  रूड़की
सलमान मलिक

पूरे विश्व में कोरोना वायरस का कहर जारी है ऐसे में पूरे देश में लॉकडाउन किया हुआ है ऐसे में भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर अपनी जान जोखिम में डालकर कोरोना संक्रमित लोगों का इलाज कर रहे हैं तो वही दूसरा चेहरा पुलिस का है जो 24 घंटे ड्यूटी पर मुस्तैद रहकर लोगों को लॉक डाउन का पालन करा रही है ऐसे में उत्तराखंड पुलिस का एक ऐसा चेहरा सामने आया है जिसे हर कोई दिल से सलाम कर रहा है और रियल हीरो उसे कहा जा रहा है ऐसा पुलिसकर्मी जिसकी शादी के महज चंद दिन बाकी रह गए थे और उसने ऐसी आपदा की घड़ी में अपनी शादी को कैंसिल करते हुए अपनी ड्यूटी पर लौटना मुनासिब समझा।

दरअसल रुड़की की सिविल लाइन कोतवाली में तैनात सिपाही लईक अहमद की 5 अप्रैल को शादी होनी थी परिवार में शादी की पूरी तैयारियां हो चुकी थी इसी दौरान कोरोना वायरस के चलते राज्य सहित पूरे देश मे लॉकडाउन लागू किया गया जिसके चलते सिपाही लईक अहमद ने इस आपदा की घड़ी में सबसे पहले अपने फ़र्ज़ यानी अपनी ड्यूटी को समझा और उसने अपनी शादी केंसिल कर दी और लईक अपने राज्य की सेवा के लिए अपनी ड्यूटी पर वापस आ गया।

वहीं सिपाही के इस कदम को लेकर विभाग उसकी सराहना कर रहा है लईक का मानना है कि इस समय देश के लोग सबसे पहले है बाकी काम सब बाद में। वही *लोकजन टूडे* भी ऐसे सिपाही की ड्यूटी के प्रति ज़ज़्बे को सलाम करता है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here