दावा: 3 से 5 सेकण्ड में पकड़ लेगी कोरोना वायरस!

0
8

 

आईआईटी रुड़की के प्रोफेसर ने बनाया ‘कोरोना डिटेक्शन’ ऐप, बताएगा आपको महज़ 3 से 4 सेकंड में, कोरोना है या नहीं

आईआईटी रुड़की के प्रोफेसर कमल जैन ने एक ऐसी एप्लीकेशन का आविष्कार किया है जो आर्टिफिशल इंटेलिजेंस की तकनिक से लैस है और जो महज़ 3 से 4 सेकंड में ही कोरोना की पहचान बता देगा इस सॉफ्टवेयर को बनाने में आई आई टी प्रोफेसर कमल जैन को एक से डेढ़ माह का समय लगा है। आइये जानते है क्या खूबी है इस सॉफ्टवेयर की जो और से अलग है आईआईटी रुड़की के प्रो. कमल जैन ने दावा किया है कि उनके द्वारा कोरोना डिटेक्शन नाम का एक ऐसा सॉफ्टवेयर तैयार किया गया है जो महज़ 3 से 4 सेकंड में कोरोना संक्रमण को बता देगा। वहीं प्रोफेसर कमल जैन का दावा है कि कोरोना टेस्ट करने के लिए व्यक्ति का एक्सरे इस सॉफ्टवेयर में लगाकर ये सॉफ्टवेयर महज़ 4 सेंकड में कोरोना की पुष्टि कर देगा यही नही पूरे शरीर में कौन सी जगह इफ़ेक्ट हुई और उसके बाद कोरोना हुआ इस बात की भी जानकारी देगा।

वहीं आईआईटी प्रोफसर कमल जैन की माने तो ये सॉफ्टवेयर इस महामारी में बड़ा महत्वपूर्ण साबित होगा। उनका कहना है कि राज्य सरकार या केंद्र सरकार इस सॉफ्टवेयर की मदद ले सकते है। वहीं इस सॉफ्टवेयर से समय की बड़ी बचत भी होगी।

बाइट – कमल जैन (प्रोफेसर आईआईटी रूड़की)

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here