दिल्ली तलब हुए नेता प्रतिपक्ष अध्यक्ष और प्रदेश प्रभारी हरीश धामी को किया गया मैनेज

0
53

कुलदीप रावत



धारचूला से कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक हरीश धामी के प्रदेश सचिव पद से इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस पार्टी बैकफुट में आई है कल  धारचूला विधायक हरीश धामी ने राष्ट्रीय महासचिव के वेणु गोपाल से मिलकर इस संबंध में शिकायत की थी जिसके बाद राष्ट्रीय महासचिव के वेणुगोपाल के  द्वारा प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश और उत्तराखंड प्रदेश प्रभारी अनुग्रह नारायण सिंह  को दिल्ली तलब किया गया सूत्रों की माने तो हरीश धामी ने अपने अनदेखी का जिम्मेदार नेता प्रतिपक्ष इंद्रा हिरदेश को बताया और अपने खिलाफ नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश को साजिशकर्ता ठहराया हरीश धामी इतने में भी नहीं रुके उन्होंने वर्तमान में नेता प्रतिपक्ष को इस पद के लिए अयोग्य मानते हुए उनके हटाने की मांग राष्ट्रीय महा सचिव वेणु गोपाल से की जिसके बाद के वेणुगोपाल ने इस मसले को गंभीर मानते हुए तुरंत नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश समेत प्रदेश अध्यक्ष और अनुग्रह नारायण सिंह को बुलावा भेजा सूत्रों के अनुसार वेणु गोपाल के द्वारा इन तीन मूर्ति को भविष्य में पुनरावृति न होने की चेतावनी दी गई है इसके साथ ही इंदिरा हृदयेश के द्वारा हरीश रावत धणी की शिकायत की गई है  इंदिरा हृदयेश ने हरीश रावत धड़े के 2 विधायकों पर अपने खिलाफ सोशल मीडिया में बयान बाजी की शिकायत भी महासचिव वेणुगोपाल से की गई है जिसके बाद लंबी बैठक के बाद इस लंबी बैठक के बाद डैमेज कंट्रोल करते हुए पूर्व में कार्यकारिणी की सूची को त्रुटि माना गया और हरीश धामी को मैनेज करते हुए आमंत्रित सदस्य नियुक्त किया गया है

बैठक के बाद आज  प्रदेश प्रभारी अनुग्रह नारायण सिंह ने पत्र जारी करते धारचूला विधायक हरीश धामी  के संबंध में कार्यकारिणी सूची में उनका नाम प्रदेश सचिव आने पर प्रिंटिंग गलती  मानी है और उन्हें आमंत्रित सदस्य नियुक्त नियुक्त किया गया है इसके साथ ही उन्होंने हरीश धामी को नसीहत देते हुए पत्र में लिखा है कि भविष्य में किसी भी संबंध में कोई शिकायत हो तो उसे पार्टी फॉर्म में रखा जाए ना की सोशल मीडिया अखबारों और मीडिया के सामने इसके साथ ही उन्होंने अन्य कांग्रेसी कार्यकर्ता और पदाधिकारियों को चेतावनी दी है कि कोई भी पदाधिकारी और कार्यकर्ता सोशल मीडिया मीडिया और कहीं भी सोशल प्लेटफॉर्म पर पार्टी के खिलाफ बयानबाजी नहीं करेगा यदि कोई ऐसे करते हुए पाया गया तो उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी

फिलहाल पार्टी के द्वारा  नाराज चल रहे  विधायक हरीश धामी को मैनेज कर डैमेज कंट्रोल करने में जुट गई है लेकिन खबर आ रही है कि लेकिन कुछ और कॉन्ग्रेस पदाधिकारी इन तीन मूर्ति से असंतुष्ट होकर दिल्ली में डेरा डाले बैठे हैं  जिससे लगता है अभी कांग्रेस में अंदरूनी मलखंब चल रहा है और यह द्वंद अभी थमने का नाम नहीं लेगा

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here