देवभूमि बनी अपराधियों की शरणस्थली,UP सहित कई राज्यों के कुख्यात बदमाश पहचान छुपा ले रहे शरण,पुलिस सत्यापन अभियान पर भी उठ रहे सवाल,बिना सत्यापन के किराए पर रखने वालों पर होनी चाहिए कड़ी कार्यवाही…

0
38

देहरादून।।
देवभूमि बनी कुख्यात बदमाशों की शरणस्थली..

दिल्ली,यूपी,हरियाणा पंजाब के इनामी बदमाश ले रहे शरण।।

होम स्टे का अपराधी उठा रहे फायदा,बिना आईडी के किराए पर दे रहे घर ।।

पुलिस से बचने के लिए आम बदलकर कर रह रहे आपरधी।।

पुलिस के सत्यापन अभियान पर भी उठ रहे सवाल।।

क्या महज खानापूर्ति के लिए किया जाता है सत्यापन।।

जी हां उत्तराखंड के दुर्गम इलाकों में यू तो कुख्यात बदमाश हमेशा से ही शरण लेते आए है. लेकिन अब राजधानी के पॉश इलाकों में भी बदमाश नाम बदलकर किराए का मकान ले रह रहे है.. जो पुलिस के सत्यापन अभियान पर भी सवाल खड़े कर रहा है.. हालांकि जिम्मेदारी पुलिस के साथ साथ आम जनता की भी है.. जो लोग पैसों के लालच में आकर बिना सत्यापन करवाये ही अपना घर मकान किराए पर दे रहे है.. देखने मे ये भी आ रहा है कि होमस्टे की आड़ में कई लोग बिना आईडी कार्ड के ही घर किराए पर दे रहे है.. जिसका इस्तेमाल आपरधी मोटी रकम दे कर रहे है.. सुरक्षा को लेकर भी सवाल भी उठ रहे है.. क्योंकि दून शहर में एफआरआई,आईएमए सहित कई संवेदनशील संस्थान हैं.. जिन पर हमेशा से ही आतंकियों की नजर रही है ..वही अगर बीते सालों की बात करें तो खालिस्तान के आतंकी रायपुर इलाके से पकड़े गए थे.. जो किराए के मकान में लंबे समय से छिपे हुए थे.. वही बीते दिनों राजपुर इलाके में रह रहे एक लाख के कुख्यात इनामी बदमाश अनिल लीला पहलवान को भी पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार किया था.. जो नाम बदलकर किराए का मकान लेकर ही रह रहा था.. ऐसे में कुख्यात बदमाश और आतंकी किसी भी बड़ी से बड़ी घटना को आसानी से अंजाम दे सकते है..इसलिए पुलिस को भी सत्यापन अभियान के साथ ही सतर्कता बरतने की जरूरत है तो साथ ही उन मकान मालिकों पर भी न केवल चालानी कार्यवाही बल्कि कड़ा एक्शन लिया जाना चाहिए जो पैसों के लालच में बिना सत्यापन करवाये ही घर मकान किराए पर दे रहे है…

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here