दो परिवारों ने आखिर क्यों और कहा दिया पुलिस को भगवान का दर्जा देखिए…

0
30

देहरादून।।
ऊपर वाला कपड़ा और मकान भले ही न दे लेकिन भूखे पेट किसी को नही सुलाता।।

ये कहावत हम बचपन से सुनते आ रहे है पर आज देख भी लिया।।

ऐसा ही कुछ आज कैंट कोतवाली के गलजवाड़ी में देखने को मिला, जहाँ गलजवाड़ी के दो मजदूर परिवारों के घर मे खाने के लिए कुछ नही था,बच्चे सुबह से ही भूखे थे, लेकिन उनकी मदद को कोई आगे नही आया,किसी ने बताया कि पुलिस उन लोगों को राशन दे रही है जो सक्षम नही है.. तो एक परिवार के बच्चे ने भी मोबाईल खोला और फेसबुक पर पड़ी पोस्ट से  पुलिस अधिकारियों के नंबर की लिस्ट में से कैंट कोतवाली के एसएसआई धनराज बिष्ट का नंबर निकाला और फोन कर अपने घर के हालात बताए.. तो बिना देर किए कुछ ही मिनटों में दारोगा धनराज बिष्ट खाद्य सामग्री लेकर उनके घर पहुँच गए.. और दोनों परिवारों को राशन उपलब्ध करवाया,जिसके बाद दोनों परिवारों ने पुलिस का आभार व्यक्त किया..अब भले ही हमारी नजर में ये खाकी वर्दी वाले पुलिस हो.. पर उनके लिए भगवान से कम नही है..क्योंकि अगर आज समय पर पुलिस राशन लेकर न पहुंचती.. तो सायद दोनों परिवार को अपने बच्चों सहित भूखे पेट ही सोना पड़ता…

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here