ब्रेकिंग! विकलांगता पर कुठाराघात पड़ा उप सचिव पर भारीः मोर्चा

0
24


लोकजन टुडे, विकास नगर : मोर्चा कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए मोर्चा अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि माह जुलाई 2016 में विकलांगजनों,जोकि पूर्णतया दूसरों पर आश्रित थे व स्थाई रूप से गंभीर बीमार की पेंशन में बढ़ोतरी किए जाने को लेकर तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत से मोर्चा अध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने आग्रह किया था ,जिस पर गंभीरता दिखाते हुए हरीश रावत द्वारा 60: प्रतिशत से ऊपर के विकलांगजनो को 2000 प्रतिमाह पेंशन जारी करने के आदेश सचिव, समाज कल्याण को दिए थे। उक्त मामले में काफी प्रयास के बावजूद भी शासन के उप सचिव राजेंद्र प्रसाद भट्ट द्वारा मामले में अड़चनें पैदा कर कार्य में व्यवधान उत्पन्न किया गया जिस कारण आज तक विकलांग जनों के पेंशन में वृद्धि नहीं हो सकी। इस मामले में लोक सूचना अधिकारी भट्ट कार्यप्रणाली एवं सूचना देने के नाम पर गुमराह करने के मामले को लेकर मोर्चा के जिला मीडिया प्रभारी प्रवीण शर्मा पिन्नी ने सूचना आयोग का दरवाजा खटखटाया था। उप सचिव भट्ट की घोर लापरवाही एवं विकलांग जनों की समस्या पर गौर फरमाने की बजाय प्रवीण शर्मा की बीपीएल पात्रता को लेकर कई विभागों में पत्राचार किया गया, लेकिन विकलांग जनों की समस्या पर कोई गौर नहीं किया गया। सूचना आयुक्त चंद्र सिंह नपलच्याल ने मामले की गंभीरता को देखते हुए एवं उपसचिव भट्ट द्वारा बरती गई लापरवाही पर 25000 जुर्माना लगाया तथा 3 माह के भीतर राजकोष में जमा करने हेतु प्रमुख सचिव, समाज कल्याण उत्तराखंड शासन को निर्देश दिए घ मोर्चा की यह बहुत बड़ी जीत है तथा इससे अन्य अधिकारी भी सबक ले सकेंगे घ

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here