युवाओं के जज्बे को सलाम

0
37
Names of Helping Hands

लोकजन टुडे, रूड़की:-

रिपोर्ट- सलमान मलिक

लॉकडाउन जारी होने के बाद कई परिवार ऐसे हैं जिनके सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया हैं इस प्रकार के परिवारों तक दो समय का भोजन पहुंचाने की जिम्मेदारी उठायी रुड़की के इन नौजवानों ने। लॉकडाउन जारी होने के बाद से ही इन युवाओं की टीम ने अपनी किचन शुरू कर दी थी जिसके बाद से लगातार रोजाना यह युवा निरन्तर ऐसे परिवारों तक खाना पहुंचा रहे हैं जो रोजमर्रा की कमाई करके अपना घर चलाते थे और लॉकडाउन के बाद इनकी वो कमाई भी बन्द हो गयी। रूडकी के रामनगर में इन नौजवानों की रसोई में पिछले 38 दिनों से सैकड़ो लोगों के लिए खाना बनता है और उसके बाद यह युवाओं की टीम घर घर जाकर खाना पहुंचाकर आती हैं। इन युवाओं का कहना है कि उनका प्रयास है कि इस आपदा की घड़ी में कोई भूखा न सोए। उन्होंने देश की जनता से अपील करते हुए कहा कि देश के प्रधानमंत्री ने इस महामारी बीमारी से देश को बचाने के लिए जो लॉक डाउन करके बड़ा कदम उठाया है उसका सभी देशवासियों को पालन करना चाहिए ताकि इस भयानक बीमारी से हमारा देश आसानी से जंग जीत सके।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here