ब्रेकिंग! हरिद्वार: बाबा रामदेव और साधु संतों ने एसएसपी हरिद्वार जन्मेजय खंडूरी को दी सीताराम येचुरी के खिलाफ तहरीर!

0
14

लोकजन टुडे: तनुज वालिया: हरिद्वार:- कम्युनिस्ट नेता सीताराम येचुरी के हिंदुओं, रामायण और महाभारत पर दिए विवादित बयान पर हरिद्वार का संत समाज बेहद आक्रोशित है।

कम्युनिस्ट नेता सीताराम येचुरी के हिंदुओं, रामायण और महाभारत पर दिए विवादित बयान पर हरिद्वार का संत समाज बेहद आक्रोशित है। योग गुरु बाबा रामदेव के नेतृत्व में संत समाज ने येचुरी के बयान की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि अगर येचुरी को राम और सीता के नाम से इतनी आपत्ति है तो तो अपने नाम से सीता और राम हटाकर रावण, कंस या औरंगजेब रख ले। येचुरी ने अपने एक बयान में कहा था

कि हिन्दू हिंसक होता है और इसका प्रमाण रामायण और महाभारत में मिलता है। येचुरी के बयान को लेकर गुस्साए संतो ने आज हृदव्र में बैठक की संतो ने एक स्वर में येचुरी के बयान की निंदा की। बाबा रामदेव ने कहा कि भारत की सभ्यता वर्षो पुरानी है और येचुरी ने इस तरह का बयान देकर पूरे भारतीय समाज और सभ्यता संस्कृति को अपमानित किया है। बाबा रामदेव ने सीताराम येचुरी को अपने बयान के लिए सार्वजनिक माफी मांगने को कहा है।

बाबा रामदेव ने येचुरी पर पलटवार करते हुए कहा कि करीब 12 करोड़ो लोगो की कम्युनिस्ट ने की है हत्या की और कम्युनिस्ट लोगो का विश्वास रक्त क्रांति में रहा है।उंन्होने कहा कि सीता राम में हिम्मत है तो वह कहे कि कम्युनिस्ट होते है क्रूर, ईसाई होते है क्रूर, मुगलो ने इस्लाम के विस्तार के लिए की है करोड़ो की हत्या।

रामदेव ने कहा कि येचुरी हिन्दू धर्म का हिंसा का एक प्रमाण दे ।उंन्होने ऐसे हिन्दू समाज का अपमान,आपत्तिजनक और घिनोना कृत्य बताया और चेतावनी दी कि येचुरी के खिलाफ
साधु संतों द्वारा सड़को पर चलाया जाएगा आंदोलन।

येचुरी के महाभारत और रामायण पर दिए गए विवादित बयान को लेकर बाबा रामदेव और साधू संत सीताराम येचुरी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाएंगे

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here