राहुल गांधी नशा करके पहुंच गए संसद बोले मुख्यमंत्री उत्तराखंड

0
20

कुलदीप रावत

 

 

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चाओं में रहते हैं इस बार उन्होंने एक और ऐसा विवादित बयान दे दिया है जिससे उत्तराखंड ही नहीं देश की राजनीति में भी भूचाल आ गया है पदोन्नति में आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर सोमवार को विपक्ष ने संसद में जमकर हंगामा किया कांग्रेस सहित विपक्षी दलों ने सरकार की मंशा पर सवाल उठाए तो एनडीए के सहयोगी दलों ने सरकार के हस्तक्षेप की मांग की वहीं इस मामले में सरकार ने स्पष्ट किया कि केंद्र का स्मृति से कोई लेना देना नहीं है वह इसमें पार्टी नहीं है फैसले पर उच्च स्तरीय चर्चा की जा रही है दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने उत्तराखंड से जुड़े एक मामले में फैसला देते हुए कहा था कि पदोन्नति में आरक्षण मौलिक अधिकार नहीं है लोकसभा में शून्यकाल के दौरान कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि भाजपा और केंद्र सरकार आरक्षण खत्म करने की साजिश रच रही है वही राहुल गांधी ने भी उत्तराखंड सरकार पर आरक्षण खत्म करने की साजिश रचने का आरोप लगाया जिसके बाद उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राहुल गांधी के ऊपर विवादित बयान दे दिया मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने राहुल गांधी के बयान को लेकर राहुल गांधी पर नशा कर कर संसद में आने का आरोप लगा दिया उन्होंने कहा कि राहुल गांधी एक बार फिर नशा करके संसद में पहुंच गए हैं  राहुल गांधी को बयान देने से पहले देख लेना चाहिए था कि 2012 में उन्हीं की कांग्रेस सरकार ने प्रमोशन में आरक्षण खत्म किया था।बयान देने से पहले राहुल गांधी को जानकारी लेनी चाहिए।राहुल गांधी अगर भविष्य की लंबी राजनीति करना चाहते हैं तो पीछे मुड़कर भी देखें।


वहीं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस बयान के आने के बाद सोशल मीडिया पर उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और वर्तमान में कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत ने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत को आड़े हाथों लेते हुए उन पर जमकर प्रहार किया पुणे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के इस बयान की जमकर आलोचना की इसके साथ ही उन्होंने नशे वाले बयान पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से कहा कि आप साबित कीजिए राहुल गांधी संसद में नशा करके पहुंचे हैं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का यह बयान गैर जिम्मेदाराना है


 

अब देखना होगा त्रिवेंद्र सिंह रावत राहुल गांधी पर दिए गए अपने इस बयान पर कायम रहते हैं या फिर अपने इस बयान पर माफी मांगते हैं क्योंकि कांग्रेस के शीर्ष नेता राहुल गांधी पर दिया गया मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का यह बयान कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को आंदोलन और सड़क पर लाने पर विवश कर रहा है जिसको लेकर उत्तराखंड ही नहीं पूरे देश भर में कांग्रेसी कार्यकर्ता रणनीति बनाने में जुट गए हैं

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here