विधायक ने लिया झूठा श्रेय, लोगों ने चेताया!

0
24

रिपोर्ट: मुकेश बछेती,पौड़ी


पौड़ी के विधायक मुकेश कोली की ओर से सोशल मीडिया पर डाली गई एक पोस्ट पर बड़ा बवाल शुरू हो गया है, सोशल मीडिया पर पौड़ी के विधायक की ओर से डाले गए पोस्ट को टेग कर लोगों ने उसमे टिप्पणी की है, कि उनके द्वारा किए गए कार्यों का श्रेय पौड़ी विधायक ले रहे हैं, जो कि सही नहीं है,दरअसल पूरा मामला इस प्रकार है कि पौड़ी में बीते मंगलवार को सबदरखाल में एक भालू ने 5 महिलाओं को घायल कर दिया था, जिन्हें उपचार के लिए जिला अस्पताल पौड़ी लाया गया। जिसमें 2 महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गई थी जिन्हें चिकित्सकों ने उपचार के लिए हायरेफर सेंटर ले जाने की सलाह दी। वही क्षेत्र के कुछ युवा समाजसेवी जो कि महाकाल सेना के नाम से जाने जाते हैं इन सभी लोगों ने जिलाधिकारी पौड़ी से मुलाकात कर दोनों घायल महिलाओं को एयरलिफ्ट कर हाई रेफर सेंटर ले जाने का आग्रह किया। जिलाधिकारी पौड़ी धीराज सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से फोन में वार्ता कर पूरी घटना की जानकारी दी। जिसके बाद मुख्यमंत्री ने दोनों महिलाओं को एयरलिफ्ट करने के लिए पौड़ी के रांसी स्टेडियम में हेलीकॉप्टर भेजा। गंभीर रूप से घायल दोनों महिलाओं को उपचार के लिए हेलीकॉप्टर की मदद से एम्स अस्पताल ले जाया गया। जहां उनके साथ अरविंद नाम का युवक जो कि महाकाल सेना संगठन से जुड़ा हुआ है उनकी देखरेख के लिये ऐम्स ऋषिकेश मौजूद है। वही आज पौड़ी के विधायक ने दोनों घायल महिलाओं से मुलाकात करने के लिए ऐम्स पहुंचे जिसके बाद उन्होंने अपने सोशल मीडिया पेज पर इस बात का जिक्र किया कि वह दोनों घायल महिलाओ को मिलने अस्पताल पहुंचे है जो कि मंगलवार को भालू के हमले से गंभीर घायल हुई थी और उनके सहयोग से ही महिलाओं को ऐम्स तक एयरलिफ्ट करवाया गया। लेकिन सोशल मीडिया पर इस पोस्ट को शेयर करते हुए रश्मि जुयाल नाम की एक फेसबुक प्रोफाइल ने टिप्पणी की है कि पौड़ी विधायक महाकाल सेना के प्रयासों को खुद का प्रयास बताकर वाहवाही बटोरने का प्रयास कर रहे हैं जो कि मानवीय रूप से सही भी नहीं है। जानकारी के अनुसार मंगलवार को जब यह घटना घटित हुई थी तो पौड़ी विधायक की ओर से न ही इन घायलों से संपर्क किया गया और न ही उनका कोई प्रतिनिधि अस्पताल पहुंचकर उनकी सुध लेने पहुंचा।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here