सील मोहल्ले की नहीं ले रहा प्रशासन सुद

0
20

संवाददाता-सुशील कुमार झा
लंढौरा में दस दिन पहले तीन प्रवासी मजदूर कोरोना पॉजिटिव पाए थे। जिससे कस्बे के तीन मोहल्लों को सील किया गया था। और इन मोहल्लों में आवाजाही पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया था।लेकिन शासन प्रशासन की ओर कोई सुविधा नही मिल पा रही है। पशु चारे की भी किल्लत हो रही है।कोई अधिकारी फोन नही उठा रहा है| लंढौरा में कुछ दिन पहले तीन कोरोना पॉजिटिव मिलने से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया था| प्रशासन ने लंढोरा के तीन मोहल्लों को सील कर दिया था। मोहल्ला हजरत बिलाल को केवल 70 मीटर सील किया गया था| जो इस 70 मीटर के दायरे में आ रहे है| सील करने के बाद उनकी सुध बुध लेने कोई नही पहुंचा। लोग 70 मीटर की दूरी सील होने के कारण आसपास की दुकान पर भी नहीं जा पा रहे है।सील क्षेत्र के लोगो को पशु चारा व अन्य आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी की भी छूट नही दी जा रही है।मोहल्ले के पूर्व चैयरमैन मोहम्मद मुर्तजा, इक़बाल, गुलफाम,मुस्तफा, शकील, इस्लाम आदि का कहना है ।बीमार होने पर दवाई लाने की भी छूट नही मिल पा रही है।ओर न ही प्रशासन ने इसकी कोई व्यवस्था की है। पशु चारा न मिलने से उनके मवेशी भूखे खड़े है।वन्ही वन्ही प्रशासन ने बहुत कम क्षेत्र को सील किया है जबकि आने वाला व्यक्ति कई दिन पूरे मोहल्ले में घूमता रहा ।जिसकी जानकारी प्रशासन को दी गयी थी लेकिन कोई सुनवाई नही हो रही है उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि उन्हें जरूरी सामान मुहैया कराया जाए।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here