वाटर कॉन्क्लेव 2020 के आयोजन में 23 विदेशी तथा भारत के 11 विशेषज्ञ पहुंचेंगे रुड़की iit

0
121

LokJan Today :आईआईटी रुड़की और एनआईएच रुड़की द्वारा संयुक्त रूप से तीन दिवसीय वाटर कॉन्क्लेव 2020 काआयोजन किया जा रहा है जिसको लेकर आईआईटी रुड़की के निदेशक अजीत कुमार चतुर्वेदी और एनआईएच के निदेशक डॉक्टर शरद जैन ने प्रेस वार्ता का आयोजन किया। प्रेस को संबोधित करते हुए आईआईटी रुड़की के निदेशक अजीत कुमार चतुर्वेदी ने बताया कि 26 फरवरी से 28 फरवरी तक आईआईटी रुड़की में वाटर कॉन्क्लेव आयोजन कर रहे हैं। इस कार्यक्रम में भारत सरकार के जलशक्ति मंत्रालय के सचिव उपेंद्र सिंह  मुख्यातिथि के तौर पर पहुचेगे और अपने विचार साझा करेंगे। साथ ही साथ महानिदेशक एनएमसीजीए और अध्यक्ष सीडब्ल्यूसी सहित कई अन्य गणमान्य व्यक्ति भी
कॉन्क्लेव में अपनी गरिमामय उपस्थिति दर्ज कराएंगे।

साथ ही साथ इस कार्यक्रम के दौरान संयुक्त राज्य अमेरिका,कनाडा,स्पेन,जर्मनी,
जापान,नीदरलैंड, यूके,
ऑस्ट्रेलिया,ऑस्ट्रिया,इटली के अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञ और इसरो
जैसे शीर्ष राष्ट्रीय संस्थानों के विशेषज्ञ अपने ज्ञान और अनुभवों को साझा करेंगे। तेईस विदेशी तथा भारत के ग्यारह विशेषज्ञ मुख्य चर्चा में भाग लेंगे। 3 दिवसीय इस कॉन्क्लेव के दौरान विचार-विमर्श में कई महत्वपूर्ण विषयों को शामिल किया जाएगा। इसमें मुख्य रूप से बाढ़ सूखा तथा उनका प्रबंधन पर चर्चा होगी
इस कार्यक्रम का फोकस
“हाइड्रोलॉजिकल एस्पेक्ट्स ऑफ क्लाइमेट चेंज” पर होगा।
वर्तमान में जलवायु परिवर्तन और जल संसाधनों पर इसका प्रभाव सबसे महत्वपूर्ण वैश्विक पर्यावरणीय चुनौती
है।

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here