तीन दिन से फंसे हुए हैं 3000 तीर्थयात्री, बढ़ रही दिक्कतें

0
15

उत्‍तरकाशी स्थित गंगोत्री हाईवे पर 3000 तीर्थयात्री फंसे हुए है। जिनके रहने-खाने की अब दिक्कतें शुरू हो गई है। आपको बता दें की गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर हेल्गू गाड़ व सुनगर के बीच राजमार्ग बुधवार की शाम से अवरुद्ध है। करीब 3000 तीर्थ यात्री राजमार्ग अवरुद्ध होने से फंसे हुए हैं। इन यात्रियों के सामने सबसे अधिक समस्या रहने खाने की है। साथ ही कई तीर्थ यात्री बुजुर्ग और बच्चे बीमार भी हो गए हैं।गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग पर हेल्गू गाड़ व सुनगर के बीच भारी भूस्खलन के कारण राजमार्ग गुरुवार पूरे दिन अवरुद्ध रहा।

गौरतलब है की सुनगर से लेकर गंगोत्री धाम के बीच बुधवार से तीन हजार तीर्थयात्री फंसे हुए हैं। तीर्थयात्रियों को खाने-रहने सहित बच्चों के लिए दूध आदि की समस्या से जूझना पड़ रहा है। गंगोत्री धाम में गुरुवार की सुबह हृदय गति रुकने से मरे तीर्थयात्री का शव भी उत्तरकाशी जिला अस्पताल नहीं पहुंचाया जा सका।वीरवार की देर रात को जब सुनगर के पास पुलिस का वाहन पहुंचा तो तीर्थ यात्रियों ने जमकर हंगामा काटा और पुलिस वाहन का भी घेराव किया। पुलिस ने तीर्थ यात्रियों से हर्षिल धराली व गंगोत्री लौटने के लिए कहा। तीर्थयात्रियों ने कहा कि उनके वाहनों में इतना अधिक डीजल पेट्रोल नहीं है कि वहां फिर से वापस गंगोत्री व हर्षिल जा सकें।