उत्तराखंड बनने के बाद से ही पहाड़ों में पलायन का मुख्य कारण बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं ना होना भी रहा: नरेंद्र सिंह नेगी

0
52

रिपोर्ट: मुकेश बछेती

पौड़ी: जिला अस्पताल सहित कुछ और अस्पताल जल्द ही पीपीपी मोड़ पर जाने वाले हैं, जिसके लिए सरकार ने पूरी रूपरेखा तैयार कर ली है। इसी के तहत कुछ दिन पूर्व इंद्रेश अस्पताल के कुछ अधिकारी जिला अस्पताल सहित पाबौ ब्लॉक के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण करने के लिए भी पहुंचे थे, हालांकि सरकारी अस्पतालों को पीपीपी मोड पर देने का विरोध अन्य पार्टी द्वारा किया जा रहा है, मगर अब उत्तराखंड के लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी सरकार के इस फैसले के समर्थन में खुलकर सामने आ गए हैं।

नरेंद्र सिंह नेगी ने बताया कि उत्तराखंड बनने के बाद से ही पहाड़ों में पलायन का मुख्य कारण बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं ना होना भी रहा है, जिसके कारण लगातार गाँव खंडहर होते चले गए।मगर अब उन्होंने उम्मीद जताई है कि जब अस्पताल प्राइवेट एजेंसियों द्वारा चला जाएगा तो यहां पर बेहतर सुविधाएं देखने को मिलेंगे।

उन्होंने उम्मीद जताई है कि जिस प्रकार की सुविधाएं मैदानी इलाकों में अस्पताल देता है, वैसी ही सुविधाएं सरकारी अस्पतालों के आमजन को मिलेगी। जिससे पहाड़ के ग्रामीण मैदानी इलाकों के बजाएं अपना इलाज पहाड़ों में ही करवा सकेंगे। उन्होंने सरकार से यह भी अपील की है कि सरकार भी इन निजी अस्पतालों पर अपनी निगरानी रखें और इजाल के साथ अन्य जरूरतों का मूल्य सरकार निर्धारित करें। जिससे ये निजी अस्पताल आमजन का शोषण न कर सके। अगर सरकार आमजन को स्वास्थ्य सुविधा दिलाने में कामयाब होती है, तो सरकार की इस कदम को वाक्य में ही सराहनीय कहा जाएगा ।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here