उत्तराखंड में बारिश से बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे बंद

0
24

देहरादून: बारिश के बाद हो रहे भूस्खलन का कहर जारी है। इसके चलते आए दिन राष्ट्रीय राजमार्गों से लेकर ग्रामीण मार्ग तक बंद हैं। आज भी भूस्खलन के कारण यमुनोत्री, गंगोत्री और बद्रीनाथ मार्ग बंद हैं। जिसके चलते लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

लामबगड़ से करीब डेढ़ किलोमीटर आगे भूस्खलन होने से बदरीनाथ हाईवे बंद है। यहां बीआरओ की जेसीबी मशीनों के जरिए मलबा हटाया जा रहा है। जिले में भूस्खलन से 19 सड़कें बंद हैं। रुद्रप्रयाग जिले में भी 10 से अधिक मोटर मार्ग बंद हैं। टिहरी जिले में धूप खिली है, लेकिन छह ग्रामीण संपर्क मोटर मार्ग यातायात के लिए बाधित हैं।

वहीं, दोपहर करीब डेढ़ बजे गंगोत्री हाईवे पर चुंगी बडे़थी में भूस्खलन हो गया। इससे हाईवे समेत रोड प्रोटेक्शन गैलरी के लिए भी खतरा बढ़ गया है। भूस्खलन के बाद प्रशासन ने एहतियातन यातायात पर रोक लगा दी है। साथ ही ट्रैफिक को मनेरा बाइपास की तरफ डायवर्ट कर दिया है। यमुनोत्री हाईवे पर मलवा और बोल्डर आने से खरादी के पास हाईवे बाधित हो गया है। हाईवे के दोनों तरफ वाहन फंसे हुए हैं।

ऊखीमठ तहसील मुख्यालय से लगभग आठ किमी दूर पापड़ी में कुंड-ऊखीमठ-चोपता-मंडल-गोपेश्वर हाईवे का 40 मीटर हिस्सा भू-धंसाव की चपेट में आ गया है। यहां सड़क पर एक से दो फीट गहरी और एक फीट तक चौड़ी दरारें पड़ गई हैं जिससे क्षेत्रीय यातायात व्यापक रूप से प्रभावित हो गया है। साथ ही प्रभावित क्षेत्र में सड़क के ऊपर बसे 18 आवासीय परिवारों को भी खतरा पैदा हो गया है।