समळौंण संस्था द्वारा आयोजित पंचम राठ महोत्सव विकास खंड पाबौ के ब्लॉक में सभागार आयोजित…

0
56

रिपोर्ट: कुलदीप रावत

पौड़ी: समळौंण संस्था द्वारा आयोजित पंचम राठ महोत्सव विकास खंड पाबो के ब्लॉक सभागार आयोजित किया गया। जिसमें कार्यक्रम के मुख्य अतिथि क्षेत्र पंचायत प्रमुख पाबो डॉक्टर रजनी रावत की प्रतिनिधि के रूप में उनके पति अमित रावत ने कहा संस्था का कार्यक्रम अत्यंत सराहनीय है और इसे और अधिक वृहद स्तर पर विस्तार करने हित बल दिया। विशिष्ट अतिथि ब्लॉक कांग्रेस कमेटी पाबो के ब्लाक अध्यक्ष मनवर सिंह रावत के प्रतिनिधि के रूप में अमित रावत थे।


उन्होंने कहा ऐसे कार्यक्रम लगातार होनी चाहिए ताकि हमारी संस्कृति जीवित हो सके। कार्यक्रम की अध्यक्षता खंड विकास अधिकारी  प्रवीण भट्ट ने कहा कि आज जिस तरह से हमारी संस्कृति विलुप्त होती जा रही है, उसे बचाने के लिए हमें ऐसे जागरूकता कार्यक्रमों की आवश्यकता आवश्यक है। तभी हम अपनी संस्कृति को बचा पाएंगे और इस संस्कृति को बचाने में हमारा भविष्य भी कामयाब हो सकेगा।

उक्त अवसर पर संस्था से जुड़े सामाजिक कार्यकर्ता  मनोज सिंह रावत ने कहा कि ऐसे कार्यक्रम वर्ष में एक बार की जानी चाहिए और इसे राजकीय मेला के रूप में होना चाहिए ताकि जिससे सरकार की ओर से आर्थिक मदद मिल सके और जिससे मेले में विभिन्न प्रकार की विभागीय स्टाल ग्रामीण महिलाओं के द्वारा उत्पादों के भी स्टाल लग जाए। तो क्षेत्रीय जनता को उसका बहुत लाभ मिल पाएगा । उन्होंने संस्था को शुभकामनाएं दी और कहा जब भी हमारे लायक कोई सेवा हो निश्चित रूप से हम आपकी संस्था के साथ सहयोग के लिए तैयार हैं। संस्था के अध्यक्ष  मनोज रोथाण ने संस्था के कार्यों एवं लक्ष्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी उन्होंने कहा कि हमारी संस्था क्षेत्र में 2010 से कार्य कर रही है।

संस्था के संस्थापक वीरेंद्र दत्त गोदियाल ने कहा कि समलौण आन्दोलन की शुरुआत में सन 2000 से अपने कार्य क्षेत्र जनता जूनियर हाई स्कूल पाटुली से शुरू कर चुका हूं। जिसमें प्रतीक संस्कारों में समलौण पौधारोपण एक रीति रिवाज एवं परंपरा के रूप में मनाई जा रही है । इसमें गांव में जाकर महिलाओं का संगठन बनाकर उस संगठन का नाम समलौण सेना नाम दिया जाता है, उसका नेतृत्व सेनानआयिका करती है। जब भी गांव में कोई भी संस्कार रूपी कार्यक्रम मनाया जाता है। तब वह सेना अर्थात संपूर्ण गांव की महिलाए उस घर में जाकर उस संस्कार की याद में पौधारोपण करवाती हैं। जिस पौधे का नाम समलौण पौधा नाम से जाना जाता है। परिवार उस सेना को प्रोत्साहन के रूप में पुरस्कार राशि प्रदान करता है। इसी तरह से जब पौधे लगते जाते हैं। तब पुरस्कार मिलता रहता है जो कि एक पूंजी बन जाती है । जिसे हम समलौण राशि के नाम से जानते हैं। इससे गांव की आर्थिक दशा में मजबूती आती है। उक्त राशि से वह सेना पर्यावरण शिक्षा एवं स्वास्थ्य आदि अन्य कार्यों के लिए खर्चा करती है और इसके साथ साथ स्वरोजगार के साधन भी अपनाए जाते हैं ।

दूसरी तरफ उन गोपी के पौधों पर परिवार के सभी सदस्यों का एक अपनत्व पन होता है ,जिसे वे उन पौधों का अच्छे ढंग से संरक्षण करते हैं। जिससे पर्यावरण में मजबूती आती है। गोदियाल ने कहा कि यह 5 वां राठ महोत्सव है जिसमें गांव की महिला मंगल दलों को आमंत्रित किया जाता है ताकि उन्हें सशक्त एवं पर्यावरण के प्रति जागरूक किया जा सके। उसी के तहत पर्यावरण पर आधारित लोक नृत्य थडिया चोंफला व झुंमेलो कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है जो कि प्रतियोगिता के रूप में किया जाता है। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान समलौण सेना पैलार दूसरा स्थान बनास एवं तीसरा स्थान पीपली आया संस्था की ओर से प्रथम द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त महिला मंगल दलों को क्रमशः 3000 2000 व ₹1000 की राशि पुरस्कार स्वरूप प्रदान किए। कार्यक्रम में महिला मंगल दल मिज गांव चोडिख कोटा चौघडियों ढिकंवाली भटकोट निशनी बनास खंडुली सरणा पैलार पैठणी मिलाई सैंडी झंगरबो कोटली खतगेड सिमल्थ इठुडू पिपली बाल्फ्यो पलीगांव डुंग्री कलगडी ओडागाड आदि 30 महिला मंगल दलों ने प्रतिभाग किया।

उक्त अवसर पर  गणेश सिंह गरीब चकबंदी प्रणेता पर्यावरण के क्षेत्र में समळौंण सम्मान इसके साथ ही  सतेश्वरी देवी सैनानायिका ग्राम पैलार व  कोशल्या देवी भट्ट  को समलौण राठ मातृशक्ति सम्मान से सम्मानित किए गए। शिक्षा के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने पर दीपक जोशी सहायक अध्यापक राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय पल्ली एवं  गंगा असनोड़ा थपलियाल पत्रकारिता के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने पर इसके साथ साथ हरीश जोशी को पत्रकारिता के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने पर समळौंण पश्चिमी नयार घाटी उत्कृष्ट सेवा सम्मान से सम्मानित किए गएे।

उक्त अवसर पर अध्यक्ष मनोज रोथाण उपाध्यक्ष  भगत सिंह गुसाईं सचिव नरेंद्र सिंह नेगी सदस्य विक्रम सिंह गढ़वाल भगत सिंह नेगी राजेश खंकरियाल गिरीश नौडियाल मातवर सिंह वर्त्वाल आदि ग्राम सभा प्रधान क्षेत्र पंचायत सदस्य अधिकारी कर्मचारी भारी संख्या में महिलाएं उपस्थित थे।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here