सीबीएससी का सख्त रवैया कई बच्चों के भविष्य से खेल सकता है?

0
8

LokJan Today: सीबीएससी हर साल ऐसे बच्चों को हमेशा से राहत देती आई है जो बच्चे स्कूल में एडमिशन तो ले लेते हैं लेकिन ऐसे स्कूलों की मान्यता नहीं होती जिसकी वजह से वह परीक्षा में ऐसे बच्चों को अभी तक दिक्कतों का सामना करना पड़ता था जिसके बाद सीबीएससी रियायत के तौर पर ऐसे बच्चों को परीक्षा में बैठने देती थी लेकिन अब हालात बदल चुके हैं सीबीएसई बोर्ड ने आज जारी एक निर्देश में साफ साफ तौर पर यह हिदायत दी है कि एडमिशन लेने से पहले स्कूल की मान्यता जरूर चेक कर ले अन्यथा ऐसे बच्चों को परीक्षा में बैठने नहीं दिया जाएगा वहीं सूत्रों की माने तो बहुत से ऐसे स्कूल जो अपनी मनमानी ढंग से बच्चों को परीक्षा कराने के नाम पर एडमिशन ले लेते थे जिसकी वजह से सीबीएसई ऐसे बच्चों को राहत पहुंचाने के वजह से एग्जामिनेशन में बैठने की अनुमति भी दे देता था लेकिन अब ऐसा नहीं हो पाएगा

सीबीएसई हर साल ऐसे बच्चों को राहत देता आया है जो स्कूल की मान्यता न होने की वजह से परीक्षा से वंचित रह सकते थे। इस बार बोर्ड ने मान्यता का नियम सख्ती से लागू कर दिया है।

यानी अगर किसी गैर मान्य स्कूल में कोई बच्चा पढ़ता है तो किसी भी सूरत में वह बोर्ड परीक्षा नहीं दे पाएगा। इसके लिए बोर्ड की एफिलिएशन से जुड़ी वेबसाइट पर उस स्कूल का स्टेटस देखा जा सकता है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here