मामूली सी बीमारी को कोरोना वायरस समझकर कर ली आत्महत्या…

0
7

दुनिया भर में फैले करॉना वायरस से पूरी दुनिया में खौफ का माहौल है। भारत में अब तक सिर्फ तीन मामले देखने को मिले है। वहीं मंगलवार को आंध्र प्रदेश में 50 वर्षीय एक शख्स ने करॉना वायरस से संक्रमित होने का शक होने पर फांसी लगाकर जान दे दी।

जानकारी के मुताबिक मामला चित्तूर जिले के थोट्टमबेडू गांव का है। यहां के बालाकृष्णैया को लगा कि उन्हें कोरोना वायरस का संक्रमण हो गया है। अब इसका कोई इलाज तो है नहीं। उनकी वजह से और लोग बीमार न हो इसलिए उन्होंने खुदकुशी कर ली।

50 वर्षीय बालाकृष्णैया शनिवार को रुइया सरकारी अस्पताल में जांच के लिए गए थे। वहां पता चला कि उन्हें यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन है। लेकिन डॉक्टरों से बातचीत के दौरान कोई कन्फ्यूजन हुआ जिसकी वजह से उन्हें लगा कि वे कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। कृष्णा के परिवार के लोगों ने बताया कि वायरल फीवर होने के दौरान उन्होंने इंटरनेट पर कोरोना वायरस से संबंधित विडियो देखा था। इसके बाद से उन्हें ऐसा लगने लगा था कि वह कोरोना से संक्रमित हैं। मंगलवार को कृष्णा ने अपने परिवार के सदस्यों को घर में बंद कर दिया और अपनी मां की कब्र पर चले गए।

बालाकृष्णैया के बेटे ने बताया कि मैंने पिता जी को समझाने की कोशिश की थी कि उन्हें कोरोना वायरस का संक्रमण नहीं है। लेकिन वे काफी शांत थे। वे ज्यादा पढ़े-लिखे नहीं थे। इसलिए डॉक्टर की बात भी नहीं समझ पाए।उन्हें लगा कि उन्हे कोरोना वायरस है। शनिवार को अस्पताल से आने के बाद बालाकृष्णैया अजीबोगरीब तरीके से व्यवहार कर रे थे। मंगलवार की सुबह उन्होंने खुदकुशी कर ली।

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here