वोट बैंक को संभाले रखने के लिए कांग्रेस ने हमेशा देश की सुरक्षा व आंतरिक सुरक्षा से सौदा किया: राजेश शुक्ला

0
55

पंतनगर: पंतनगर में साल 2014 में मंदिर में तोड़फोड़ कर मूर्तियों को ध्वस्त करने वाला इनामुल हक जिसे हाल ही में एसटीएफ ने अलकायदा का आतंकवादी पाया। उसे तत्कालीन कांग्रेस सरकार के दबाव में पुलिस प्रशासन से मंदबुद्धि एवं मानसिक विक्षिप्त कह कर उसकी गहनता से जांच नहीं की वरना तभी उसका खुलासा हो गया होता।

आज प्रेस वार्ता के दौरान किच्छा पंतनगर क्षेत्र के विधायक राजेश शुक्ला ने कहा कि तुष्टीकरण की राजनीति एवं वोट बैंक को संभाले रखने के लिए कांग्रेस ने हमेशा देश की सुरक्षा व आंतरिक सुरक्षा से सौदा किया है। उन्होंने कहा कि इनामुल हक यही पंतनगर क्षेत्र में रहकर देश विरोधी व आतंकी गतिविधियों में लिप्त रहा तथा अलकायदा के एजेंट के रूप में उसने कश्मीर से लेकर उत्तर प्रदेश तक अलकायदा आतंकी संगठन में युवाओं को बरगला कर भर्ती करने के अभियान में लगा रहा। विधायक राजेश शुक्ला ने कहा कि गहनता से जांच कर पंतनगर, किच्छा, उधमसिंहनगर में उक्त इनामुल हक ने अलकायदा से कितने लोगों को जोड़ रखा है उसका खुलासा शीघ्र करना होगा।

विधायक राजेश शुक्ला ने कहा कि उधमसिंहनगर व किच्छा क्षेत्र में गहनता से भौतिक सत्यापन कराया जाए तो देश के विभिन्न हिस्सों के अपराधी एवं आतंकी संगठनों के लोग यहां नाम बदलकर गोपनीय तरीके से रहकर अपराधों एवं अन्य गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं, जिसका खुलासा हो सकता है। 2014 में इनामुल हक द्वारा मंदिर तोड़ने की घटना को यदि तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने वोट बैंक एवं तुष्टीकरण से ना जोड़कर उस अपराधी का इतिहास खंगाला होता व गहनता से जांच की होती तो आज 6 वर्ष बाद उत्तर प्रदेश में एसटीएफ को उसे नहीं उजागर करना पड़ता है तथा इस दौरान देश की जो क्षति हुई व नहीं होती।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here