देहरादून: सौतेली बेटी की हत्या की आरोपी मां को उम्र कैद की सजा, जानिए क्या है पूरा मामला

0
33

देहरादून: दो साल पूर्व में हुए हत्याकांड की जांच एसआई अशोक राठौर द्वारा न्यायालय में पेश किए गए साक्ष्य व सबूतों के आधार पर न्यायालय ने हत्याकांड की आरोपी को आजीवन कारावास व 30 हजार का जुर्माना लगाकर दंडित किया।

अशोक राठौर की छवि एक ईमानदार ऑफिसर के रूप में देखी जाती है और अशोक राठौर के अथक प्रयासों से ही 2 साल पुराने इस हत्याकांड में आरोपियों को न्यायालय ने सजा सुनाई। अशोक राठौर इससे पहले भी कई अनसुलझे मामलों को सुलझा चुके हैं और कई शातिर अपराधियों को सलाखों के पीछे डाल चुके हैं।

देहरादून के अंसारी रोड (पलटन बाजार) पर सामने आए दिल-दहलाने वाले हत्याकांड सौतेली मां ने सो रही बेटी प्राप्ति के सिर पर ईंट से हमला कर उसकी हत्या की। उसने फिर खुखरी से बेटी के शव के दो टुकड़े कर दिए। ताकि वह शव को ठिकाने लगा पाए। शव के टुकड़े करने में उसे चार घंटे का वक्त लगा, लेकिन शव को घर से बाहर ले जाने का साहस नहीं जुटा पाई।

आपको बता दें कि सौतेली बेटी की हत्याकर उसके शव के दो टुकड़े करने वाली मां को एडीजे चतुर्थ की अदालत में आजीवन कारावास और 30 हजार जुर्माने की सजा सुनाई है। आठ फरवरी 2018 को महिला मीनू कौर ने पुलिस चौकी आइएसबीटी में सौतेली बेटी प्राप्ति की गुमशुदगी दर्ज करवाई थी। पुलिस ने जब लापता युवती के मोबाइल लोकेशन खंगाली तो लोकेशन घर के अंदर ही मिली थी। पूछताछ के बाद पुलिस ने नौ फरवरी को महिला मीनू कौर को गिरफ्तार करते हुए पूछताछ की।