दून पुलिस की एसआईटी की बड़ी जांच: कई (तत्कालीन) अधिकारियों पर मुकदमा दर्ज!

0
164

लोकजन टुडे। देहरादून

दून पुलिस की एसआईटी की जांच के बाद कई (तत्कालीन) अधिकारियों पर विकास नगर थाने में  मुकदमा दर्ज किया गया हैं जांच में भूस्वामियों व कालोनाइजर के विरूद्ध कोई कार्रवाई नहीं कि गई और ना ही लोकसेवक होने के नाते अपने कर्तव्यों का पालन नहीं करने का आरोप सामने आया हैै शासन की अनुमति के बिना , बगीचे की भूमि का लैंड यूज़ परिवर्तित कराए बिना हरबर्टपुर, ढकरानी, जीवनगढ़ में करीब 400 बीघा भूमि में प्लॉटिंग की गई थी जिसकेेे बाद वहां मौजूद फलदार वृक्षों को बिना किसी अनुमति के काटा गया..उद्यान विभाग के तत्काली ज़िला उद्यान अधिकारी, तत्कालीन वन विभाग के प्रभागीय वन अधिकारी (कालसी) और दून घाटी विशेष क्षेत्र प्राधिकरण के तत्कालीन सचिव उपरोक्तत विभाग के अधिनस्त अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज…हाइकोर्ट के आदेश पर गठित की गई थी एसआईटी..

ये है मामला
इस पुरे प्रकरण को लेकर अनुज कंसल द्वारा माननीय उच्च न्यायालय नैनीताल में जनहित याचिका योजित की गयी थी, जिस पर मां0 उच्च न्यायालय द्वारा दून घाटी विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण (SADA) क्षेत्रान्तर्गत हरबर्टपुर, विकासनगर तथा ढकरानी क्षेत्र के आस-पास कृषि भूमि/बगीचा भूमि के आवासीय में परिवर्तित करने एवं फलदार पेड को काटने की स्वीकृति दिये जाने से सम्बन्धित प्रकरण में SIT गठित कर जांच के आदेश कर प्रकरण में अभियोग पंजिकृत किये जाने के निर्देश निर्गत किये जिस पर जांचोपरान्त गठित SIT द्वारा मामले में गहन अन्वेषण के लिये अभियोग पंजिकृत करने की संस्तुति की गयी।