मोदी सरकार द्वारा देश के नागरिकों का हो रहा शोषण: मोहन खेड़ा

0
32

रुद्रपुर: डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस जिला महासचिव सुशील गाबा के नेतृत्व व जिला उपाध्यक्ष ओंकार ढिल्लों के संचालन में कांग्रेसियों ने जबरदस्त प्रदर्शन किया। उन्होंने डीजल खरीदने में असमर्थ ट्रांसपोर्टरों व किसानों की बात को जनता के समक्ष रखने हेतु एक ट्रक को रस्सी से बांधकर खींचा और सरकार को यह जताया की डीजल वृद्धि से भारत की समस्त जनता को गंभीर परेशानियां एवं महंगाई का सामना करना पड़ रहा है ।

कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहे जिला महासचिव सुशील गाबा ने डीजल मूल्यवृद्धि को लेकर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि भारत का आम नागरिक दुनिया मे आज सबसे ज्यादा पेट्रोल डीजल पर टैक्स चुका रहा है। तेल पर लगने वाले टैक्स और वैट को देंखे तो भारत में यह करीब 69 फीसदी लग रहा है।
कोरोना काल में पेट्रोल 21.50 ₹ रुपये और डीजल 26.46 रुपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है। इससे साफ है कि सरकार द्वारा जनता को हर तरह से त्रस्त करने की पूरी तैयारी है।

जहां एक और पूरा देश स्वास्थ्य व आर्थिक मोर्चा पर गंभीर चुनौतियों से जूझ रहा है, वही इस मुश्किल वक्त में मोदी सरकार पेट्रोल उत्पादों के मूल्य एवं उस पर लगने वाले उत्पाद शुल्क को बार-बार बढ़ाकर अपनी जेब भरते हुए आपदा में अवसर की कहावत को चरितार्थ कर रही है। देश की जनता में इस बढ़ोतरी के विरुद्ध भारी आक्रोश है। इसी क्रम में आज किसानों व ट्रांसपोर्टरों की भावनाओं को प्रदर्शित करने के लिए कैंटर को रस्सी से बांधकर खींचते हुए यह बताने का प्रयास किया गया है इस समय देश की समस्त जनता को डीजल पेट्रोल इसकी कीमतों के बढ़ने से तकलीफ हो रही है।

किसान कांग्रेस प्रदेश सचिव मोहन खेड़ा ने कहा कि आज केंद्र की मोदी सरकार द्वारा देश के नागरिकों का शोषण हो रहा है उनके द्वारा जनता की गाढ़ी कमाई को जबरन वसूल किया जा रहा है और आज अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में भारी कमी के बावजूद लगातार मूल्य वृद्धि से यह बात साबित हो गई है कि मोदी सरकार भारत के भोले भाले नागरिकों की जेब पर डाका डाल कर उनको लूटने खसोटने का काम कर रही है।

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here