“हैप्पी बर्थडे नैनीताल”,आज नैनीताल की बना रहा अपनी 179वी वर्षगांठ, जानिए सबसे पहले किसने की थी खोज

0
18

रिपोर्ट: गुंजन मेहरा

नैनीताल: जब से सृष्टि की रचना हुई है तब से ही नैनीताल अस्तिव में है। लेकिन अंग्रेजी सरकार के सौन्दर्यपूर्ण से सरोवर नगरी को खोजने के हिसाब से आज नैनिताल की 179 वी वर्षगांठ है।

ऐतिहासिक रूप से प्राकृतिक सौंदर्य से लबालब नैनीताल हमेशा से ही पर्यटको की पहली पसंद रहा है। अंग्रेजी शासन में भी सरोवर नगरी उनके लिए पहली पसंद हुआ करती थी। आजादी के पूर्व आजादी का पश्चात सरोवर नगरी की दशा व दिशा में काफी बदलाव देखने को मिला। लेकिन आपने प्राक्रतिक सौंदर्य के चलते आज भी यह सरोवर नगरी के नाम से प्रशिद्ध है।

सबसे पहले पी बैरन द्वारा इस जगह कि खोज की गई थी, जिसके बाद नैनीताल अस्तिव में आया था। यहां की अधवैत सुंदरता को देख कर पी बैरन क्षुब्ध थे। अपनी यात्रा के बाद उन्होंने ब्रिटिश सरकार को अवगत कराया कि एक ऐसी जगह हैं जो स्वर्ग के समान है। जिसके बाद ब्रिटिश सरकार के अधिकारियों ने नैनीताल का रुख किया। जिसके साथ ही नैनीताल में ब्रिटिश सरकार के सतब साथ आम लोगो की भी बसासत शुरू हुई। जिसके बाद आज तक यह सिलसिला जारी है।