हरीश रावत का बयान कांग्रेस का अंदरूनी मामला: बंशीधर भगत

0
24

देहरादून: अगले विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित किए जाने के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस महासचिव हरीश रावत के पार्टी आलाकमान को दिए गए सुझाव पर भाजपा ने सधी प्रतिक्रिया दी है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर ने इसे कांग्रेस का अंदरूनी मामला करार दिया है।

हरीश रावत द्वारा इंटरनेट मीडिया में सोमवार को की गई पोस्ट ने कांग्रेस की अंदरूनी सियासत में हलचल पैदा कर दी है। अब क्योंकि विधानसभा चुनाव को महज एक साल का वक्त बाकी है, लिहाजा सत्तारूढ़ भाजपा भी कांग्रेस की प्रत्येक गतिविधि पर नजदीकी नजर रख रही है। दरअसल, कांग्रेस जिस तरह कई गुटों में बंटी हुई है, उससे चुनाव के वक्त परिस्थितियां भाजपा के लिए ही मुफीद रहेंगी।

वैसे भी कांग्रेस का अंतर्कलह गाहे-बगाहे सतह पर नजर आता रहा है। इस संबंध में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने ज्यादा कुछ कहने से परहेज किया। उन्होंने महज यही टिप्पणी की कि कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत जो भी कह रहे हैं, यह उनके परिवार का मामला है। वे जो चाहें करें। उन्होंने कहा कि भाजपा को इससे कोई फर्क नहीं पडऩे वाला। उन्होंने कहा कि भाजपा राज्यवासियों के दिलों में रची-बसी है। आगामी विधानसभा चुनाव में भी वह फिर से भाजपा को ही भारी बहुमत देने जा रही है।

झबरेड़ा से भाजपा विधायक देशराज कर्णवाल के इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुए उस ऑडियो ने पार्टी को असहज कर दिया है, जिसमें वह कथित तौर पर एक चीनी मिल के अधिकारी के साथ फोन पर अभद्र भाषा का प्रयोग कर रहे हैं। इसे देखते हुए पार्टी इस ऑडियो की सत्यता की पड़ताल कराने जा रही है। माना जा रहा है कि इस सिलसिले में जल्द ही पार्टी द्वारा कर्णवाल को कारण बताओ नोटिस भेजा जा सकता है।

विधायक देशराज कर्णवाल तब भी सुर्खियों में रहे थे, जब उनके और खानपुर से पार्टी विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के मध्य जुबानी जंग तेज हुई थी। अब विधायक कर्णवाल का ऑडियो वायरल होने से विपक्ष को बैठे-बैठाए भाजपा के खिलाफ हमलावर होने का मुद्दा मिल गया है। इस क्रम में कांग्रेस ने भाजपा पर निशाना भी साधा है। उधर, इस संबंध में संपर्क करने पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि इस प्रकरण का पार्टी संज्ञान ले रही है। यदि इसमें सच्चाई है तो पार्टी आगे कदम उठाएगी।