भारत को कैसे मजबूत करेगा राफेल, जानिए राफेल की खूबिया

0
33

चीन के साथ सीमा विवाद के बीच भारत का बाहुबली यानी राफेल आज भारत आ चुका है। दोपहर में 5 राफेल विमानों का पहला बेड़ा आज दोपहर हरियाणा के अंबाला एयरबेस पर उतारा ।

पांच राफेल लड़ाकू विमानों को रिसीव करने के लिए खुद वायुसेना प्रमुख आर.के.एस. भदौरिया मौजूद रहें। राफेल की अंबाला में आज लैंडिंग के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किया गया और फोटोग्राफी से लेकर घर की छतों पर लोगों की मौजूदगी को बैन कर दिया गया था। जब राफेल विमान की लैंडिंग अंबाला में हुई तो पानी की बौछारों से इन्हें सलामी दी।

ये है लड़ाकू विमान की खूबियां…

  • राफेल दो इंजन वाला लड़ाकू विमान है, जो इंडियन एयरफोर्स की पहली पसंद है। इसे हर तरह के मिशन में भेजा जा सकता है।
  • राफेल अत्याधुनिक हथियारों से लैस है, प्लेन के साथ मेटेअर मिसाइल भी है। विमान में फ्यूल क्षमता- 17,000 किलोग्राम है।
  • राफेल हवा से जमीन पर मार वाली स्कैल्प मिसाइल से लैस है,जिसकी रेंज 150 किमी की बियोंड विजुअल है। जबकि स्कैल्प मिसाइल की रेंज 300 किलोमीटर है, आपको बता दें कि हथियारों के स्टोरेज के लिए 6 महीने की गारंटी भी है।
  • राफेल की अधिकतम स्पीड 2,130 किमी/घंटा है बताया जा रहा है कि राफेल एक मिनट में 60 हजार फुट की ऊंचाई तक जा सकता है।
  • यहां आपका ये भी जानना जरूरी हो जाता है कि राफेल की मारक क्षमता 3700 किलोमीटर तक है. इसके साथ ही ये 4.5 जेनरेशन के ट्विन इंजन से लैस है।
  • 24,500 किलोग्राम तक का भार उठाकर ले जाने के लिए राफेल विमान पूरी तरह से सक्षम है, साथ ही 60 घंटे अतिरिक्त उड़ान की भी गारंटी है।
  • आपको बता दें कि इसकी सबसे खास बात ये है कि राफेल 75 फीसदी हमेशा ऑपरेशन के लिए तैयार हैं, जैसे परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है।
  • राफेल फाइटर जेट को माली अफगानिस्तान, इराक और लीबिया में इस्तेमाल किया जा चुका है।
  • राफेल फाइटर जेट में भारतीय वायुसेना के हिसाब से फेरबदल किए गए हैं यानी इंडियन एयरफोर्स के हिसाब से ये बिल्कुल सटीक है।
  • इंडियन एयरफोर्स को साल 2022 तक 36 राफेल मिल जाएंगे, 18 राफेल हाशीमारा बेस पर तैनात होंगे. जिससे चीन पर नजर होगी और 18 राफेल हरियाणा के अंबाला में तैनात होंगे जिससे पाकिस्तान पर नजर होगी।

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here