पौड़ी पुलिस ने बच्चे को मिलाया परिजनों से मां बोली जुग जुग जियो उत्तराखंड पुलिस

0
98
Your browser does not support the video tag.

 

गुमशुदा युवक को सकुशल किया बरामद

परेशान होकर युवक विनय कुमार निकला था अपने घर पंजाब से

जनपद पौड़ी पुलिस की तत्परता से 24 घण्टे के अन्दर सकुशल बरामद, परिजन हुये गदगद

दिनांक 12.11.2022 को थाना लक्ष्मणझूला पर सूचना प्राप्त

हुई कि नीलकंठ बैराज बाईपास रोड पर भूतनाथ मंदिर से आगे एक कार पंजाब नंबर PB 08 CD 5255 संदिग्ध अवस्था में बीच रोड पर खड़ी हैं

सूचना पर प्रभारी निरीक्षक मय फोर्स के मौके पर पहुंचे तो देखा कि मौके पर एक कार भूतनाथ सड़क पर लगभग बीच में अनलॉक खड़ी है और हैंडब्रेक लगा है। कार के पास जमीन पर कुछ कपड़े बेल्ट एक बैग मिला, जिसके अंदर पासपोर्ट/हाई स्कूल का एक प्रमाण पत्र मिला, जिस पर विनय कुमार पिता का नाम विक्रम कुमार निवासी जालंधर कैंट पंजाब का नाम लिखा था। प्रभारी निरीक्षक लक्ष्मणझूला द्वारा मामले की सूचना उच्चाधिकारियों को दी गयी। जिस पर वक्त की नजाकत और गंभीरता को समझते हुए पुलिस कप्तान श्वेता चौबे द्वारा गुमशुदा को सकुशल बरामद करने हेतु प्रभारी निरीक्षक लक्ष्मणझूला के नेतृत्व में टीमें गठित करने हेतु निर्देशित किया गया है। गठित टीमों द्वारा मामले में किसी अनहोनी के दृष्टिगत त्वरित कार्यवाही कर परिवहन विभाग से सम्पर्क कर वाहन स्वामी के सम्बन्ध में जानकारी कर कागजातों में अंकित मोबाइल नंबर पर कॉल की गई तो नंबर नॉट रीचेबल आ रहा था। पुलिस टीम द्वारा विनय कुमार के पित से सम्पर्क तो उनके द्वारा बताया गया कि दिनांक 11.11.2022 को उनका बेटा जालंधर से अमृतसर घूमने गया था। जो अभी तक वापस नही आया और बताया कि उनका बेटा धार्मिक प्रवृत्ति का है जो एक सप्ताह से हम लोगों से भी कम बात कर रहा था एवं परेशान चल रहा था। इसी प्रकार इसके दोस्तों ने बताया कि वह एक महीने से हमसे बात नही कर रहा था और अलग-थलग रह रहा था। जनपद की लक्ष्मणझूला पुलिस, जल पुलिस, फायर सर्विस टीम एवं एसडीआरएफ टीम द्वारा उपरोक्त विनय कुमार को लक्ष्मणझूला के जंगलों, नदी के किनारे, घाटों एवं पूरे क्षेत्र में रात दिन तलाश के दौरान दिनांक 13.11.2022 को *परमार्थ निकेतन मन्दिर के पास घूमते हुये बरामद किया गया। गुमशुदा विनय कुमार पुलिस टीम द्वारा सकुशल बरामद कर परिजनों के सुपुर्द किया गया।

पूछने पर बरामदशुदा विनय कुमार द्वारा बताया गया कि मेरा मन अध्यात्म की ओर हो रहा है तथा वह अकेला रहना चाहता है इसी को लेकर वह थोड़ा डिप्रेशन में था, अकेला रहना चाहता था इसीलिए वह अपने परिजनों को बिना बताए तथा मोबाइल स्विच ऑफ कर लक्ष्मण झूला में घूमता रहा गुमशुदा के परिजनों द्वारा जनपद पौड़ी, लक्ष्मणझूला पुलिस की भूरी भूरी प्रशंसा की गई तथा पुलिस का धन्यवाद ज्ञापित किया गया।