यंहा नशे के पदार्थों के नाम है सपना चौधरी, प्रेम चोपड़ा, श्री देवी आदि

0
97

LokJan Today : रुड़की के पिरान कलियर क्षेत्र में मेडिकल स्टोर व गली मोहल्लों से लेकर दरगाह क्षेत्र में नशे का कारोबार बढ रहा है। नशे का यह कारोबार कोड नंबर के आधार पर रखा गया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सुल्फे का नाम प्रेम चोपड़ा , स्मेक का नाम श्रीदेवी रखा गया है  चरस का नाम मांस व भांग की पत्ती का नाम सपना चौधरी रखा गया है। पिरान कलियर में नशे का कारोबार तेजी से फल-फूल रहा है।

नशे के सरगना के निशाने पर पिरान कलियर की युवा पीढ़ी और कॉलेज के बच्चे हैं। जिनके भविष्य को इन नशा माफियाओं के द्वारा खराब किया जा रहा है। नशे की चपेट में आने के कारण ये युवा बड़ी से बड़ी घटनाओं को अंजाम तक दे देते हैं। नशे का सामान खरीदने के लिए पर्याप्त पैसा न होने के कारण ये युवा क्षेत्र में चोरी जैसी घटनाओं में शामिल हो जाते हैं। लेकिन पिरान कलियर में नशे के कारोबार पर अंकुश लगने का नाम नहीं ले रहा है।

आए दिन दर्जनो से अधिक युवा पीढ़ी इस अवैध नशे में अपना भविष्य खराब करने में लगे हुए हैं। वहीं इन युवा वर्ग के माता-पिता उनके भविष्य को लेकर बेहद चिंतित हैं। दरगाह क्षेत्र से सटे धूनो पर बाबा लोगों की चिलम से चरस का धूआ उड़ता हुआ दिखाई दे सकता है।वहीं भीख मांगने वाले बच्चे भी इस नशे की चपेट में आ रहे हैं। कलियर क्षेत्र में अधिकांश मेडिकल स्टोर पर ड्रग्स  विभाग द्वारा प्रतिबंधित दवाइयां व वैक्सीन को पकडा गया है लेकिन फिर भी नशे के कारोबार पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। कलियर नगरवासियों के लिए यह किसी बड़ी समस्या से कम नही है। नगर पंचायत पिरान कलियर के सभासदों ने नशे के कारोबार पर अंकुश लगाने के लिए ईनाम भी घोषित किया हुआ हैं। लेकिन फिर भी पिरान कलियर में नशे के कारोबार पर अंकुश नहीं लग पा रहा है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here