देखिये वीडियो: लुटेरों ने सब-इन्सपेकटर से लूटी मोटरसाइकल!

0
168

लोकजन टुडे

उधम सिंह नगर में आपराधिक घटनाएं दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं यही कारण है कि अब आम जनता के साथ-साथ पुलिस भी सुरक्षित नहीं है। ऐसा ही मामला काशीपुर के आईटीआई थाना क्षेत्र में सामने आया है। जिसने पुलिस महकमे में हड़कंप मचा दिया है। जहां सर्राफा व्यापारी की दुकान में सोना लूटने आए दो बदमाशों ने दुकान से भागने के बाद तमंचे के बल पर स्पेशल ब्रांच के एक दरोगा से बाइक लूट ली। पुलिस के अधिकारी से बाइक लूट की घटना पुलिस के लिए चुनौती बन चुकी है।

फिल्मों में ही अक्सर आपने देखा होगा कि लूट की वारदात करने के बाद अपराधी पुलिस के सर पर भी तमंचा तान लेते हैं, और फिर पुलिसवाले की ही बाईक लूट कर मौके से फरार हो जाते हैं। ऐसा ही नजारा काशीपुर के श्यामपुराम में सामने आया है, जहां लूट की वारदात को अंजाम देने आये दो शातिर बदमाश पहले तो एक सर्राफा व्यापारी की दुकान पर पुहंचे जहां एक बदमाश ने महिला के भेष में बुर्खा पहना था, ज्वेलरी दिखाने के नाम पर पहले तो दोनों महिला दुकानदार से सौदेबाजी करन लगे, उसके बाद दोनों ने तमंचे निकाल दिये और दुकान लूटने का प्रयास करने लगे, तभी महिला की सूझबूझ से हल्ला मचाने पर दोनों बदमाश दुकान से बाहर भाग गये, महिला के चिल्लाने की आवाज पर कई लोग बदमाशों के पीछे भागे, लेकिन बदमाशों के सामने बाईक सवार एस आई यू का दरोगा आ गया। जिसके सर पर और पेट पर दोनों बदमाशों ने तमंचा लगा दिया और बाईक छोडने को कहा, डर के मारे एस आई यू दरोगा ने बाईक छोड दी और बदमाश बाईक लेकर फरार हो गये।

इस पुरी वारदात के बाद एस आई यू दरोगा हक्के बक्के रह गया और खुद को ठगा महसूस करते हुए तुरन्त ही आईटीआई थाना पहुचे। जहा पीड़ित एसआईयू दरोगा रमेश चंद्र शर्मा ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस में हड़कंप मच गया आनन-फानन में पुलिस के अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंचकर मौका मुआयना किया और आसपास के सीसीटीवी कैमरों को खंगालना शुरू कर दिया है। वहीं एसपी सिटी प्रमोद कुमार ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है और जल्द ही अपराधियों को पकड़ लिया जाएगा।

बहरहाल जहां पुलिस को दिन दहाडे तमंचे के बल पर लूटा जा रहा हो, वहां आम आदमी बदमाशों के सामने कितना सुरक्षित है, ये इस घटना से ही अंदाजा लगाया जा सकता है, पुरी वारदात में लूटेरे लूटने तो सोने चांदी आये थे, लेकिन लूट गये पुलिस की साख को, और चुनोती दे गये पुलिस को, कि अपराधियों हौसले कितने बुलंद हैं।