खबर चलाने पर पत्रकार को दी जान से मारने की धमकी…गरीबी का उड़ाया उपहास, मुकदमा दर्ज

0
69

कोटद्वार: देश के विभिन्न राज्यों में पत्रकारों पर हमले रोकने का नाम नहीं ले रहे हैं। वहीं उत्तराखंड के कद्दावर कैबिनेट मंत्रियों में सुमार कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत की विधानसभा क्षेत्र कोटद्वार में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के न्यूज़ रिपोर्टर को खबर चलाने के संदर्भ में जान से मारने की धमकी दी गयी हैं। धमकी किसी और ने नही बल्कि कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के चहेते वार्ड नम्बर 29 के पार्षद कुलदीप रावत ने दी।

बात अगर धमकी तक ही सीमित होती तो कोई बड़ी बात नही थी पत्रकारों और नेताओं के बीच नोकझोक चलती ही रहती है। पार्षद कुलदीप ने अपनी सत्ता की पँहुच दिखाते हुए अपने एक गुर्गे जगत सिंह रावत को पत्रकार दलीप कश्यप के घर भेज दिया। जिसने पत्रकार और उसके परिवार से अभद्र व्यवहार किया। जिसमे पत्रकार दलीप कश्यप के द्वारा कोटद्वार कोतवाली में पार्षद और उसके गुर्गे के खिलाफ तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है,पुलिस ने पार्षद कुलदीप रावत और जगत सिंह रावत के खिलाफ 504,506 में मुकदमा दर्ज कर दिया है।

जानिए क्या है पूरा मामला…

वन एवं पर्यावरण मंत्री हरक सिंह रावत इस कोरोना काल मे लगातार अपनी विधानसभा कोटद्वार की सुध ले रहे हैं और हर गरीब व जरूरतमंद तक खाद्यान्न किट पंहुचाने का काम कर रहे है। जिससे इस आपदा की घड़ी में कोई भूखा ना रहे। पार्षदों के माध्यम से खाद्यान्न किट जरूरतमंद तक पंहुचाई जा रही है। लेकिन पार्षद गरीबो के हक के खाद्यान किट में से सामान कम कर दे रहे है और पूरी खाद्यान सामग्री गरीब व जरूरतमंद तक नही पँहुच पा रही है।

खाद्यान किट से तेल,चायपत्ती, मसाले, मैगी,बिस्कुट, केंडी सहित और भी कई सामान कम था। इस खाद्यान घोटाले खबर की चार लाइन पत्रकार ने वट्सअप ग्रुप में डाल दी। इस खबर में किसी व्यक्ति विशेष का नाम नही लिखा हुआ था। चोर की दाढ़ी में तिनका वाली कहावत को पार्षद कुलदीप रावत ने पूरा कर दिया। वार्ड नम्बर 29 घमंडपुर के पार्षद कुलदीप रावत ने न्यूज़ चैनल के रिपोर्टर दलीप कश्यप को फोन किया और मामले को उजागर करते ही जान से मारने की धमकी देने लगा।

पार्षद के गुर्गे जगत सिंह रावत के बोल…

वार्ड नम्बर 29 घमंडपुर के पार्षद कुलदीप रावत के गुर्गे जगत सिंह रावत ने गरीब व असहाय जनता को सरकार पर बोझ बताया। गरीब व दलित लोगो को मजाक उड़ाते हुए कहा कि सन 1960 से झुग्गी झोपड़ीयो में रहकर सरकार के आगे भीख मांग रहे हो। तुम गरीब लोग देश के ऊपर बोझ हो।

केंद्र सरकार हो या प्रदेश सरकार गरीबो के विकास के लिए कई योजनाएं लेकर आती है। योजनाओं को सरकार अपने स्तर से गरीबो तक पंहुचाने का काम भी कर रही है। लेकिन वंही कुछ लोग इन योजनाओं को गरीबो के लायक नही समझते।

वर्चुअल रैलीयो पर फेर रहे पानी…

केंद्रीय मंत्री हो या कैबिनेट मंत्री सभी वर्चुअल रैली के माध्यम से अपने विकाश के मुद्दों को जनता तक पंहुचाने के काम कर रहे है, लेकिन भाजपा के छुटभैया नेता इन वर्चुअल रैलियों पर पानी फेरते हुए नजर आ रहे है। जिसका असर 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी को झेलना पड़ सकता है।

इन खबर की लाइनों से बौखलाया पार्षद…

  • वन मंत्री हरक सिंह रावत कोरोना काल मे लगातार ले रहे हैं कोटद्वार विधानसभा की सुध।जरूरतमंद तक खाद्यान सामग्री पंहुचाने का काम कर रहे है मंत्री हरक सिंह रावत।
  • मंत्री के प्रयासों पर कुछ पार्षद फेर रहे पानी।गरीबो के हक के खाद्यान्न सामग्री को डकार रहे मंत्री के चहेते पार्षद।
  • विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकते खाद्यान्न चोर पार्षद।खाद्यान्न किट से तेल,चायपत्ती सहित और भी कई सामग्री है गायब।
  • मंत्री के कोटद्वार आगमन पर मंत्री के इर्द गिर्द घूमता रहता है यह सेवानिवृत्त पार्षद।

लोकतंत्र कब होगा मजबूत…

लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ पर जिस तरह से हमले होते जा रहे हैं,पत्रकारों की कलम को साजिश से कुचलने का काम किया जा रहा है।इससे तो यह लगता है कि आने वाले समय मे लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ को चार कंधे भी नसीब होते है या नही।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here