तीर्थ पुरोहित की बिगड़ी तबीयत, एयर एंबुलेंस से लाया गया ऋषिकेश

0
203

केदारनाथ धाम में देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के खिलाफ तीर्थपुरोहित 12 जून से अर्धनग्न होकर धरना दे रहे हैं। आज अचानक एक तीर्थ पुरोहित की तबीयत बिगड़ गई। आनन-फानन में उनको एम्स ऋषिकेश लाया गया है।

धरना दे रहे तीर्थपुरोहित संतोष त्रिवेदी(32) की तबीयत बिगड़ने के कारण उन्हें हेलीकॉप्टर से एम्स ऋषिकेश पहुंचाया जाया गया। स्टेट डिजाजस्टर रिस्पांस फोर्स की टीम ने उन्हें केदारनाथ से लिंचोली तक कंधे पर लाया। वहां से हेलीकाॅप्टर से ऋषिकेश पहुंचाया गया।

केदारनाथ मंदिर परिसर में आचार्य संतोष त्रिवेदी तीन माह से अपनी दो मांगों को लेकर अर्धनग्न होकर धरना दे रहे हैं और सिर्फ एक ही समय भोजन खा रहे हैं। उनकी मांग है कि देवस्थानम बोर्ड को भंग किया जाए और केदारनाथ में मास्टर प्लान के तहत हो रहे निर्माण कार्यों को भी बंद किया जाए। उनका कहना है कि देवस्थानम बोर्ड के गठन के बाद से केदारनाथ धाम में अव्यवस्थाएं हावी हो चुकी हैं, तीर्थ पुरोहितों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में पहले की तरह श्री बद्री-केदार मंदिर समिति को चारधाम की कमान सौंपी जाए।

सोमवार को उन्हें पेट में दर्द की शिकायत हुई, जिसके बाद केदारसभा अध्यक्ष विनोद शुक्ला ने शासन-प्रशासन को इसकी सूचना दी। केदारनाथ तीर्थ पुरोहित विनोद शुक्ला ने बताया कि देवस्थानम बोर्ड के खिलाफ तीर्थ पुरोहित आंदोलन पर डटे हैं। बावजूद इसके सरकार उनकी कोई सुध नहीं ले रही है। तीर्थ पुरोहित आचार्य संतोष त्रिवेदी तीन माह से अर्धनग्न होकर धरना दे रहे थे जिस कारण उनकी तबियत खराब हो गई और उन्हें इलाज के लिए AIIMS ले जाया गया है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here