पर्यटन नगरी पौड़ी को अब कूड़े की समस्या से मिलेगा निजात, मिली ट्रंचिंग ग्राउंड के लिए लीज पर भूमि

0
24

रिपोर्ट: मुकेश बछेती

पौड़ी: पर्यटन नगरी पौड़ी को अब कूड़ा निस्तारण की समस्या से निजात मिलेगी। पालिका को शहर से करीब पांच किमी दूर ट्रंचिंग ग्राउंड के लिए 30 साल की लीज पर भूमि मिल गई है। इस संबंध में पालिका व वन विभाग को शासन से पत्र भी प्राप्त हो चुका है। पालिका ई०ओ० प्रदीप बिष्ठ का कहना है कि जल्द ही सभी औपचारिकताएं पूरी कर निर्माण कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

वन एंव पर्यावरण मंत्रालय ने यहां ट्रंचिंग ग्राउंड निर्माण के दौरान पालिका के समक्ष कुछ शर्ते भी रखी हैं। उनका कहना है कि लीज की सभी शर्तो के अनुसार की कार्य किया जाएगा। मंडल मुख्यालय पौड़ी में लंबे समय से कूड़ा निस्तारण एक बड़ी समस्या बनी हुई थी। पालिका के पास ट्रंचिंग ग्राउंड न होने के कारण शहर का कूड़ा श्रीनगर-पौड़ी मार्ग पर डंप किया जा रहा था। उक्त स्थान पौड़ी शहर का प्रवेश द्वार होने के कारण यहां कूड़ा डंप किए जाने का स्थानीय लोग विरोध भी कर रहे थे।

पालिका ट्रंचिंग ग्राउंड निर्माण के लिए लंबे समय से प्रयासरत थी। लेकिन पालिका की ओर से जिस भूमि का चयन किया गया था, वह भूमि वन विभाग की थी। इस भूमि पर टं्रचिंग ग्राउंड निर्माण की स्वीकृति के लिए वन एंव पर्यावरण मंत्रालय भारत सरकार से अनुमति के लिए आवेदन किया गया था। जिसकी अब स्वीकृति मिल चुकी है। पालिका प्रशासन को गढ़वाल वन प्रभाग की 1.007 हेक्टेअर वन भूमि 30 साल के लिए लीज पर मिली है। इस भूमि पर पालिका ट्रैचिंग का निर्माण करेगी।

ट्रचिंग ग्राउंड में जैविक, अजैविक कूड़ा अलग-अलग करने के साथ ही कंपोस्ट पिट बनाए जाएंगे। प्लास्टिक कूड़ा को कॉम्पेक्ट करने के लिए कॉम्पेक्टर मशीन भी लगाई जाएगी। पालिकाध्यक्ष यशपाल बेनाम ने बताया कि पालिका को ट्रैचिंग ग्राउंड निर्माण के लिए वन विभाग की भूमि 30 साल के लिए लीज पर मिल गई है। वन एवं पर्यावरण मंत्रालय ने भूमि को विधिवत स्वीकृति प्रदान कर दी है। उन्होंने बताया कि 4 करोड़ 7 लाख की लागत से तैयार होगा। जिसके लिए शासन से 70 लाख की धनराशि रिलीज हो चुकी है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here