बहुत जल्द शुरू होगा डोबरा चांठी पुल पर यातायात…

0
13

रिपोर्ट: सुभाष राणा

टिहरी: भारत देश का एकमात्र भारी वाहन झूला पुल जिसकी लंबाई 440 मीटर है। डोबरा-चांठी पुल निर्माण पूरा होने को लेकर टकटकी लगाए प्रतापनगर क्षेत्र के लोगों के राहत भरी खबर है।

कार्यदायी संस्था लोनिवि निर्माण खंड एक सप्ताह के भीतर पुल के ऊपर मास्टिक (डामरीकरण) बिछाने का कार्य शुरू कर देगा। मास्टिक बिछाने से पूर्व पुल पर वाटर प्रूफिंग सीट बिछाने का कार्य अंतिम चरण मे है। शीघ्र ये तक यह कार्य पूरा हो जाएगा। जिसके बाद मास्टिक बिछाने और अंत में पुल की फाइनल प्रोफाइल करक्शन का कार्य किया जाएगा। सब कुछ ठीक ठाक रहा तो सितंबर 2020 में पुल के ऊपर वाहन दौड़ने शुरू हो जांएगे।

2006 से टिहरी झील के ऊपर निर्माणाधीन डोबरा-चांठी पुल का निर्माण कार्य विभिन्न कारणों से लंबा खिंचता जा रहा है। पहले तकनीकी समस्या और वर्तमान में कोरोना संक्रमण के कारण पुल निर्माण कार्य पूरी तरह से बंद रहा। लोनिवि निर्माण खंड के ईई व डोबरा-चांठी पुल के प्रोजेक्ट मैनेजर एसएस मखलोंगा का कहना है कि लाॅकडाउन के बाद वर्तमान में बिहार व अन्य जगहों से मजदूर साईट पर पहुंच गए हैं। जिसके बाद निर्माण कार्य में तेजी लाई जा रही है। शीघ्र पुल के ऊपर वाटर प्रूफिंग सीट डालने का कार्य पूरा हो जाएगा। जबकि पुल को दोनों साइड़ से जोड़ने वाली सड़क निर्माण के लिए सरकार ने तीन करोड़ 64 लाख की धनराशि निर्गत कर दी हैं।

पुल का रंग-रोगन, सौंदर्यकरण, मास्टिक बिछाने के लिए के वाटर प्रूफिंग सीट डालने काम अंतिम चरण में है। बताया कि मास्टिक बिछाने के लिए बिहार 16 मजदूर टिहरी पहुंच गए हैं। पुल को दोनों साइड़ से जोड़ने वाली दो किमी सड़क निर्माण के लिए भी सरकार ने तीन करोड़ 64 लाख रूपये की धनराशि निर्गत कर दी है। पुल निर्माण के साथ-साथ अप्रोज रोड़ का कार्य भी किया जा रहा है। कहा कि मौसम और अन्य सभी चीजें अनुकूल रही तो दो-तीन माह के भीतर पुल का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा।

 

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here