देश में नापसंद के मामले में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री नम्बर 1, सर्वे रिपोर्ट का खुलासा : आप

0
137

देहरादून: आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एस एस कलेर ने प्रदेश कार्यालय में एक पीसी करते हुए कहा, आदमी पार्टी लगातार उत्तराखंड की जनता को ये बताते आ रही थी कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत जीरो वर्क सीएम हैं इन्होंने अपने पिछले चार सालों में जनहित के कोई काम नहीं किए इसलिए आम आदमी पार्टी और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री लगातार इनसे पांच विकास के कामों को गिनवाने की बात कर रहे थे।

आज मीडिया के एक सर्वे में भी उत्तराखंड के मुख्यमंत्री को पूरे भारत में सबसे खराब मुख्यमंत्रियों की श्रेणी में सबसे उपर रखा है जो उत्तराखंड के लिए भी बेहद शर्म की बात है । आप अध्यक्ष ने कहा आम आदमी पार्टी लगातार उत्तराखंड की जनता से यही कह रही थी त्रिवेंद्र सरकार ने कोई काम नहीं किया , विकास के आंकड़े झूट बनाकर जनता के सामने दिखाए जा रहे थे। ये सरकार जनता को बरगलाने का काम लगातार कर रही थी ।आज आप की कहीं बातों पर मीडिया और सर्वे भी पूरी तरह मुहर लगा चुका है । और इस सर्वे ने पसंद के मामले में सबसे कम पसंदीदा मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को बताया।

इस सर्वे में जनता ने त्रिवेंद्र को सबसे खराब मुख्यमंत्रियों की श्रेणी में पहले नम्बर पर रखा, हरियाणा बीजेपी के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को दूसरे पर जबकि पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को तीसरे नंबर पर जगह मिली। जबकि मुख्यमंत्रियों की श्रेणी में जनता की पहली पसंद उड़ीसा के मुख्यमंत्री, नवीन पटनायक को जबकि दूसरा नम्बर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को मिला। इस सर्वे में देश की सभी लोकसभा के 543 सीटों पर सर्वे किया गया था।

आप अध्यक्ष ने कहा जिस तरह उत्तराखंड के हालत पिछले चार सालों में बदहाल हो चुके हैं। युवाओं को रोजगार के लिए सड़कों पर उतरना पड़ रहा, बेरोजगारी दरें देश में सबसे ज्यादा उत्तराखंड में है। पानी के लिए यहां लोग परेशान है । कर्मचारी संगठन सड़कों पर आंदोलन को मजबूर है । ये बात अब उत्तराखंड की जनता अच्छे तरह से समझ चुकी है कि पिछले चार सालों में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कोई काम नहीं किए हैं । जिसको लेकर आप लगातार सरकार से सवाल पूछ रही थी।

यहां तक दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने जनहित के कोई भी पांच कामों पर डिबेट की चुनौती तक दी थी।लेकिन ना वो आए और ना ही उनके कोई भी मंत्री,मीडिया में बयानबाजी जरूर मदन कौशिक करते रहे । जब कुछ किया ही नहीं तो बताते क्या ? आज इस सर्वे से ये साफ हो गया मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत जीरो वर्क सीएम हैं और आम आदमी पार्टी और मनीष सिसोदिया के उस बयान पर भी मुहर लगा दी जिसमें जीरो वर्क सीएम बताया था। आज मीडिया ने खुद उनको आइना दिखा दिया कि उनकी लोकप्रियता इतनी कम है उन्हें पूरे देश मे पसंद नहीं किया जाता ।