उत्तराखंड आपदा: टनल के बाहर अपने मालिक का इंतजार कर रहा यह वफादार…!

0
56

चमोली: उत्तराखंड के चमोली जिले ग्लेशियर टूटने से आई जल प्रलय से भारी तबाही हुई है। अब मृतकों की कुल संख्या 37 हो गयी है, जिनमें से 10 लोगों की शिनाख्त हो चुकी है।अभी भी 150 से ज्यादा लोग लापता हैं, जिनकी तलाश लगातार जारी है। साथ ही तपोवन टनल में बचाव कार्य लगातार जारी है।

पिछले चार दिनों से बचावकर्मी दिन-रात बचाव कार्य में लगे हुए है। तपोवन टनल में बचाव कार्य बहुत मुश्किल रहा है। टनल में गाद और मलबा भरा है। इसी बीच देखने को मिला कि एक कुत्ता तीन दिन से टनल के पास ही बैठा है, मानों किसी का बेसब्री से इंतजार कर रहा हो। उसको कई बार भगाया भी गया, लेकिन वह हर बार वापस आकर वहीं बैठ जाता है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक कुत्ता सुरंग में काम करने वालों के साथ काफी घुला मिला रहता था। वह उनके साथ खाना खाता था। बताया जा रहा है कि वह कुत्ता आस-पास काम करने वाले कामगारों के बीच हुआ बड़ा हुआ था। वह सुबह के वक्त सुरंग के पास आता था और दिन भर वह आस-पास ही रहता था और शाम के वक्त काम करने वालों के साथ ही चला जाता था।

रविवार को जब कुत्ता रोज़ की तरह उसी जगह पर आया तब उसे कोई नज़र नहीं आया और तब से वह बैचेन है। बचाव कार्य के दौरान सुरक्षा टीमों ने उसे वहाँ से हटाने का प्रयास किया लेकिन वह बार-बार अपनी जगह पर वापस आ जाता था। स्थानीय लोगों का कहना है कि कुत्ता यह उम्मीद लगाए बैठा है कि उसके दोस्त जल्द सुरंग से सही सलामत वापस लौटेंगे।