एक बार फिर देवदूत बने उत्तराखंड पुलिस के जवान, इस तरह बचाई युवक की जान

0
48

देहरादून: एक बार फिर उत्तराखंड पुलिस के जवान देवदूत बनकर आए। बीती गुरूवार लगभग 01.39 बजे देहरादून की चौकी लक्ष्मण चौक प्रभारी SI लोकेन्द्र बहुगुणा को सूचना प्राप्त हुई कि मातावाला निवासी आशु शर्मा अपने परिजनों से नाराज होकर कहीं चला गया है। उसकी मित्र ने बताया कि संभवत वह अपनी दुकान आशु फोटो स्टूडियो गांधीग्राम जा सकता है।

इस सूचना पर तुरंत कार्यवाही करते हुए SI लोकेन्द्र बहुगुणा कांस्टेबल जाति राम और रूपेश कुमार के साथ आशु फोटो स्टूडियो पहुंचे, तो देखा आशु शटर का ताला अंदर से बंद कर फांसी पर लटकने का प्रयास कर रहा था। अपने प्रयासों से पुलिसकर्मी शटर का ताला तोडकर दुकान के अन्दर दाखिल हुए और आशु को तुरंत फांसी के फंदे से उतारकर निजी वाहन से महंत इंद्रेश हॉस्पिटल में भर्ती कराया, जिससे वह जीवित अवस्था में हॉस्पिटल पहुंच पाया। वही शुक्रवार को 48 घंटे के बाद आशु को होश आ गया है। उत्तराखण्ड पुलिस के जवानों की तुरंत कार्यवाही से आज उसे नया जीवनदान मिला है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here