वीडियो: शीतकाल के लिए बंद हुए यमुनोत्री धाम के कपाट

0
10

उत्तरकाशी: भैया दूज के पावन पर्व पर सोमवार को 12.15 बजे यमुनोत्री धाम के कपाट भी शीतकाल के लिए बंद हो गए हैं। कपाट बन्द होने के साथ ही मां यमुना की डोली के खरसाली के लिए प्रस्थान किया। शीतकाल में 6 महीने मां यमुना खरसाली में प्रवास करेंगी, यहीं पर मां की पूजा अर्चना होगी।

परंपरा के अनुसार रविवार 15 नवम्बर को शनिदेव जी अपनी बहन यमुना से मिलने यमुनोत्री आ गए थे। आज भैयादूज पर उन्होंने यमुना को मायके आने का न्यौता दिया। इसके बाद धाम के कपाट बंद हुए और मां यमुना ने अपने मायके खरसाली के लिए प्रस्थान किया।

गौरतलब है कि गंगोत्री धाम के कपाट कल बंद हो गए थे। आज सुबह केदारनाथ और दोपहर में यमुनोत्री धम के कपाट बंद हुए। 19 नवम्बर को बदरीनाथ धाम के कपाट भी बंद हो जाएंगे।