विधायक ठुकराल के लिए नई मुसीबत, रम्पुरा की जनता के साथ मुख्यमंत्री को होगा विरोध!

0
2037

रुद्रपुर के मुख्यमंत्री के दौरे का होगा विरोध:- पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़।

रुद्रपुर। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तिलकराज बेहड़ ने पुलिस के ऊपर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए 30 जुलाई को मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के दौरान रम्पुरा की जनता के साथ मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का विरोध करने की बात कही। वही स्थानीय चर्चित विधायक राजकुमार ठुकराल की मुसीबते बढ़नी लाज़मी हैं एक तरफ मुख्यमंत्री के नजदीकी विधायक दूसरी तरफ मंत्री पद मिलने की चर्चा और उसके बाद चाबी काण्ड में विधायक के क्षेत्र की सैकड़ो जनता पर मुकदमा दर्ज… विधायक जी की मुश्किलें बढ़ाने के लिए काफी है बात अगर यही तक होती तो भी ठीक था अब इस राजनीति की शतरंज में दो-दो हाथ करने के लिए विपक्ष के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री भी आमने सामने हैं जो रम्पुरा की जनता के साथ मुख्यमंत्री के आगमन पर विरोध करने का बिगुल बजा दिया हैं ऐसे में मुख्यमंत्री का प्रस्तावित दौरा भी हैं और प्रदेश की जनता के लिए मुख्यमंत्री कितने संवेदनशील हैं आप उनके ट्वीट से अंदाजा लगा सकते हैं आइए जानते हैं क्या हैं पूरा मामला…रुद्रपुर। बीती रात वाहन चेकिंग के दौरान रुद्रपुर के रम्पुरा के रहने वाले एक युवक के माथे पर चाबी गोदने के मामले में जहां पुलिस ने रम्पुरा के रहने वाले और पुलिस पर पथराव करने वाले अज्ञात लोगों के खिलाफ डेढ़ सौ लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया तो वही पीड़ित की तहरीर के आधार पर सीपीयू के अज्ञात पुलिसकर्मी के खिलाफ एससी-एसटी मारपीट और गाली-गलौच का मुकदमा दर्ज किया है

लोकजन टुडे संवाददाता राजीव चावला से रुद्रपुर कोतवाल कैलाश भट्ट ने बताया कि पीड़ित युवक की तहरीर के आधार पर सीपीयू के अज्ञात पुलिसकर्मी के खिलाफ एससी-एसटी, मारपीट और गाली-गलौज का मुकदमा दर्ज किया गया है।

मुख्यमंत्री जी का ट्वीट जनता के साथ..

लोकजन टुडे कुमाऊं प्रभारी राजीव चावला से बातचीत में तिलक राज बेहड़ ने साफ तौर पर कहा कि पुलिस ने जनप्रतिनिधियों के साथ बात करने के बाद वादाखिलाफी की है जिसको लेकर तिलकराज बेहड़ मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का पूर्णता बहिष्कार करेंगे इसके साथ ही रम्पुरा के लोगों के साथ मिलकर सीएम के कार्यक्रम का विरोध भी करेंगे। पूर्व मंत्री तिलक राज बेहड़ ने साफ शब्दों में कहा है कि सीपीयू कर्मियों की गिरफ्तारी कर उन्हें जेल भेजा जाना चाहिए ना कि जो लोग एक युवक को न्याय दिलाने के लिए सड़कों पर आए थे ना कि उन लोगों को जेल भेजना चाहिए।

ऐसे में जनता की आवाज  होने का दावा करने वाले विधायक राजकुमार ठुकराल के लिए अग्नि परीक्षा से कम नहीं हैं “चाबी काण्ड” मौके की स्थिति को भांपते हुए विधायक ने भी कमर कस ली हैं विधायक ने भी लोकजन टुडे से बात करते हुए रम्पुरा की जनता के साथ किसी भी तरह से गलत नहीं होने का वचन दिया हैं

ऐसे में देखना बड़ा ही दिलचस्प होगा कि एक तरफ विधायक के क्षेत्र की जनता जिस पर मुकदमा दर्ज हुआ हैं और पीड़ित की पुलिस ने पिटाई भी की हैं को इन्साफ कैसे और कौन दिलाता हैं और सबसे मजेदार बात जनता किस नेता पर जायदा भरोसा करती हैं देखने वाली बात होगी…

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here