नखली दवाइयों के कारोबार पर सफेद पॉश नेता का था संरक्षण, ऐसे हुआ भंडाफोड़

0
137

Report by: सलमान मलिक

LokJan Today(रुड़की):रुड़की के भगवानपुर थाना क्षेत्र के चुड़ियाला गांव में हरिद्वार सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक के करीबी माने जाने वाले बीजेपी नेता के बड़े भाई पराग त्यागी लंबे समय से नखली दवाइयों का अवैध कारोबार कर मौत बांट रहे थे तभी सूचना मिलने पर ड्रग्स विभाग की टीम ने छापामार कार्यवाही करते हुए 12 ब्रांडों की मल्टीनेशनल दवाइयां जब्त की जिसमे मुख्य एल्केम सिपला जैसे बड़े ब्रांड मौजूद थे

ड्रग एवं औषधि नियंत्रण विभाग ने चूड़ियाला में एक घर में छापा मारकर दवा बनाने वाली फर्जी फैक्ट्री पकड़ी। मौके से 25 पेटियों में करीब पचास हजार गोलियां बरामद की गई है। आरोपियों पर मुकदमा दर्ज करने की तैयारी चल रही है।जिस घर मे फैक्ट्री चल रही थी वह भाजपा नेता के भाई का बताया गया है।
ड्रग और औषधि नियंत्रण विभाग को शिकायत मिली थी कि भगवानपुर के चूड़ियाला में एक घर में नकली दवा बनाने की फैक्ट्री चल रही है। बताया जा रहा है कि करीब डेढ़ साल से फैक्ट्री चल रही थी। शिकायत के बाद ड्रग एवं औषधि नियंत्रण इंस्पेक्टर हरिद्वार मानवेंद्र राणा, इसी विभाग में दिल्ली से आए एचडी शर्मा के नेतृत्व में टीम पहुंची। मौके से दवा बनाने के उपकरण और भारी मात्रा में दवाइयां बरामद की गई।

औषधि निरीक्षक ने बताया कि संचालक फैक्ट्री संचालन से संबंधित कोई दस्तावेज नहीं दिखा पाए। इसलिए यह नकली फैक्ट्री है। बताया कि फैक्ट्री में दिल्ली की एक फ़ूड प्रायोडेक्ट कम्पनी की दवाएं कॉपी करके बनाई जा रही थी। साथ ही यहां एंटीबायोटिक, कैल्शियम, घबराहट में प्रयोग होने वाली दवाएं बन रही थी। मौके पर दवा बनाने के उकरण भी मिले। करीब पच्चीस पेटियां बरामद की गई। दवाइयों की कीमत करीब 50 लाख आंकी गयी है।

उपकरणों को सील करने के साथ दो लोगों को हिरासत में लिया गया है। ड्रग इंस्पेक्टर ने बताया कि अभी पूछताछ जारी है। दवा की सप्लाई कहां-कहां होती थी इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। भगवानपुर क्षेत्र में पहले भी इस तरह की फैक्ट्री पकड़ी जा चुकी है। कई बार बाहरी राज्यों की पुलिस और औषधि विभाग की टीम आकर कार्रवाई कर चुकी है।

उसके बाद भी लगातार इस तरह के मामले सामने आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि जिस घर में यह फैक्ट्री चल रही थी वह भाजपा नेता के भाई का है। और पुख्ता सूत्रों की माने तो इस फैक्ट्री को भाजपा नेता का भाई दो लोगों के साथ मिलकर चला रहा था।

वही इस सम्बबं में भाजपा नेता का कहना है कि यह उनके रिश्तेदारों का घर है। जिसे करीब डेढ़ साल पहले किराये पर दिया गया था। बताया कि रिश्तेदारों ने इसे किराये पर दिया था। उन्हें फैक्ट्री संचालन की जानकारी नहीं है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here