गंगा, ग्लेशियर एम् पेड़ पौधों को जीवित व्यक्ति का दर्जा दिया जाना आवश्यक

0
10

रिपोर्ट: सुशील कुमार झा

स्पर्श गंगा कार्यालय में गंगा पर्यावरण विषय पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमे मुख्य वक्ता ललित मिगालनी एडवोकेट हाई कोर्ट नैनीताल, राजेन्द्र सिंह रावत जगजीतपुर चौकी इंचार्ज, नितिन गौतम जिला अध्यक्ष विश्व हिन्दू परिषद्, विशाल गर्ग समाजसेवी रहे गोष्ठी आशु चौधरी के सयोजक में रही कार्यक्रम का संचालन रीमा गुप्ता ने किया।

अधिवक्ता मिगलानी ने कहा की गंगा पर्यावरण का एक दुसरे के पूरक है। एक के बिना दूसरा अधुरा है। जहा ग्रंथो ने जल को पिता का स्थान दिया है और पृथ्वी को माता का दर्जा दिया गया। पर्यावरण को स्वास्थ्य और साफ रहेगा तो गंगा अपने आप निर्मल हो जाएगी ।

मिगलानी ने मंच के माध्यम से सरकार से निवेदन करते हुआ कहा के आज के समय में गंगा, गलेशियर एम् पेड़ पोधो को जीवित व्यक्ति का दर्जा दिया जाना आवश्यक हैI आज अगर गंगा को जीवित व्यक्ति का दर्जा हमारी सरकार देती है तो निश्चित रूप से ये एक अनूठी पहल होगीI मिगलनी ने मंच के मध्मय से सरकार से निवेदन किया की सप्ताह में एक दिन गंगा में किसी भी तरीके की गतिविधि की रोक हेतु निर्देश पारित करेI

विश्व हिन्दू परिषद के जिला अध्यक्ष नितिन गौतम के कहा की गंगा सबकी जीवन दायनी है और इसका अस्तित्व समाज की एक महत्वपूर्ण पहचान है गंगा को स्वस्थ रखना ने केवल हमारी जिमेदारी है बल्कि हमारा कर्तव्य भी हैI विशाल गर्ग ने कहा की हाई कोर्ट के आदेश के बाद भी माँ गंगा को जीवित व्यक्ति का दर्जा नहीं दिया गया जो की वाकई चिंता का विषय हैI विशाल ने मंच के माध्यम से प्रशासन से निवेदन किया की गंगा को स्वच्छ रखने के लिए महत्पूर्ण कदम उठाना चाहिये। जल्द से जल्द माँ गंगा में जाने वाले गंदे नाले पर रोक लगनी चाहिए।

आशु चौधरी ने कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए कहा स्पर्श गंगा माँ गंगा के लिये पूर्ण रुप से समर्पित है और स्पश गंगा हमेशा गंगा को स्वस्थ रखने के लिये हर संभव पर्यास किया जायेगा।गोष्ठी में रेनू शर्मा, मन्नू रावत ने स्पर्श गंगा की के सभी वक्ता उपस्थित एम् रिता चमोली, रेनू शर्मा, मन्नू रावत, पुनीत कुमार, रीमा गुप्ता, विमला डोंडीयाल, देवेन्द्र चावला, सिधार्थ परधान, बिंदिया गौस्वामी, रजनी वर्मा, मनप्रीत, मोहित कुमार, प्रखर, रजनीश सहगल, शीतल, अंशु तोमर, राजेश लखेड़ा आदि उपस्थित रहे।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here