उधमसिंह नगर: जब हुई दो फैक्ट्रियों में जहरीली गैस रिसाव…जाने फिर क्या हुआ

0
13

 

रिपोर्ट: राजीव चावला

रुद्रपुर: उधम सिंह नगर में सुरक्षा के मद्देनजर जिला प्रशासन सहित अन्य विभाग कितने मुस्तेद है इसको लेकर आज सिडकुल क्षेत्र स्थित दो फेक्ट्रियो में मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया। जिसमें जहरीली गैस रिसाव से दो फेक्ट्री में क़ई श्रमिकों के फसे होने की सूचना जिला प्रशासन को दी गयी। जिसके बाद क़ई घण्टो की जदोजहद के बाद टीम द्वारा सभी लोगो को रेस्क्यू कर अस्पताल में भर्ती किया गया।

आज जिला प्रशासन सहित अन्य विभागों में उस वक्त हडकंम्प मच गया जब सूचना मिली थी कि सिडकुल की तीन फेक्ट्रियो में जहरीली गैस का रिसाव हो गया है। जिसमे से दो फेक्ट्रियो द्वारा जिला प्रशासन द्वारा मदद मांगी गई थी। जिसमे से टाटा मोटर्स में 6 जबकि सनसेरा फैक्ट्री में 21 लोगो के फसे होने की सूचना प्रशासन को मिली थी। जिसके बाद जिला प्रशासन हरकत पर आया और घटना स्थलों पर तत्काल टीमो को रवाना किया गया। इसके साथ ही पुलिस प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को अलर्ट पर रखा गया।

वही फेक्ट्री के आसपास की सड़कों पर ट्रैफिक रोक दिया गया। मौके पर पहुची टीम ने क़ई घंटो की जदोजहद के बाद रेस्क्यू फसे हुए लोगो को बाहर निकाला गया। जिसके बाद सभी को जिला अस्पताल में पहुचाया गया। इसके अलावा पन्तनगर स्थित सरकारी स्कूल की ओर भी गैस रिसाव का असर देखने को मिला। प्राथमिक विद्यालय हल्दी के 35 बच्चे बेहोश हो गए। कुछ की आंखों में जलन होने लगी। विद्यालय की शिक्षिकाओ ने तुरंत इसकी सूचना जिला प्रशासन को दी। जिसके बाद जिला प्रशासन की टीम, चिकित्सक ओर फायर ब्रिगेड के साथ मौके पर पहुँची और 35 बच्चो सहित 6 स्टाफ के लोगो को रेसक्यू कर अस्पताल पहुचाया।

दरअसल आज प्रदेश स्तर की मॉक ड्रिल का आयोजन किया जा रहा था। औद्योगिक नगरी होने के चलते उधम सिंह नगर में जहरीली गैस रिसाव को लेकर मॉक ड्रिल का आयोजन किया गया था।वही एडीएम जगदीश चन्द्र कांडपाल ने बताया कि प्रदेश स्तरीय मॉक ड्रिल का आयोजन आज सिडकुल की तीन फेक्ट्रियो में किया गया। इसके पीछे किसी भी स्थिति के लिए जिले का सरकारी तंत्र कितना मुस्तेत है, इसको लेकर ट्रेनिग देना है।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here