देहरादून शहर की यातायात व्यवस्था के सुधारीकरण हेतु लगातार समीक्षा के दौरान चिन्हित हुए यातायात…

0
30

रिपोर्ट: करन सहगल

देहरादून : श्री प्रकाश चन्द्र द्वारा देहरादून के पुलिस अधीक्षक यातायात के पद पर पदभार ग्रहण करने के उपरान्त देहरादून शहर की यातायात व्यवस्था के सुधारीकरण हेतु लगातार समीक्षा के दौरान चिन्हित यातायात अवरोधक के रूप में रिस्पनापुल, ग्रेट वैल्यू स्थित विद्युत ट्रांसफार्मर एवं बिन्दाल पुल स्थित शराब के ठेके के पास विद्युत पोल तथा क्रास रोड़ के पास सड़क की पर्याप्त चौड़ाई न होने से प्रायः उत्पन्न यातायात समस्या के निराकरण हेतु अपनी प्राथमिकता में इन कार्यों को शामिल किया गया था।

श्री प्रकाश चन्द्र पुलिस अधीक्षक यातायात देहरादून के अनुसार उक्त स्थलों पर इन यातायात अवरोधकों को स्थानान्तरित किये जाने हेतु परस्पर सम्बन्धित विभाग के मध्य पत्राचार व व्यक्तिगत रूप से समन्वय स्थापित किया गया इसके उपरान्त ही उक्त अवरोधकों को हटाया जा सका । पिछले साल 13 अक्टूबर 2019 को रिस्पनापुल व 13 नवंबर 2019 को ग्रेट वैल्यू पर स्थित विद्युत ट्रांसफार्मर को मार्ग से हटवाया गया। इसी क्रम क्रास रोड़ स्थित बी.एस.एन.एल के पोल को 5 मार्च 2020 को भी स्थानान्तरित करवाया गया। इसके अतिरिक्त क्रास रोड़ के पास फुटपाथ की चौड़ाई कम करवाते हुए मार्ग का चौड़ीकरण/सुधारीकरण करवाया गया।जिससे उपरोक्त स्थानों की यातायात समस्या का स्थायी समाधान संभव हो पाया है ।

उक्त के अतिरिक्त 20 जून 2020 को बिन्दाल पुल स्थित शराब के ठेके के पास पुलिस पोल को भी काफी प्रयासों के उपरान्त सम्बन्धित विभाग की मदद से हटवा दिया गया है ।उपरोक्त तमाम कार्य कई बर्षों से लम्बित होने व विभागों की तकनीकी समस्या भी कई बार अड़चन पैदा कर रही थी, जिनके स्थायी समाधान हेतु पुलिस अधीक्षक यातायात देहरादून द्वारा स्वयं इस सम्बन्ध में विभागों को यथोचित परामर्श व आवश्यकतानुसार सम्बन्धित विभागों के साथ चिन्हिति स्थलों का भौतिक निरीक्षण कर अन्ततः अपेक्षानुरूप इन कार्यों को अंजाम दिया गया जो एक उपलब्धि है ।

श्री प्रकाश चन्द्र पुलिस अधीक्षक यातायात देहरादून के अनुसार उक्त कार्यवाही किया जाना वास्तव में एक अलग अनुभव है, क्योंकि कई वर्षों से पुलिस द्वारा यातायात व्यवस्था के दृष्टिगत इन अवरोधकों को हटाये जाने हेतु विभिन्न स्थलों पर समस्याएँ रखी जा रही थी। किन्तु विभागों के मध्य तकनीकि एवं बजट के अभाव में लम्बित चली आ रही थी जिसका अब जाकर स्थाई समाधान किया जा सका ।

Leave a reply

Please enter your comment!
Please enter your name here